[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: दुनियामे हलचल | News 4 India - Part 2

दुनियामे हलचल

350 करोड़ लोग देखेंगे

350 करोड़ लोग देखेंगे

दुनियामे हलचल
मॉस्‍को न्‍यूज 4 इंडिया। फुटबॉल वर्ल्‍ड कप 14 जून से शुरू हो रहा है। इसमें 32 टीमें 32 दिन में 64 मैच खेलेंगी। टूर्नामेंट की शुरूआत रूस-सऊदी अरब मैच से होगी। मैच रात 8.30 बजे से होगा। इससे पहले शाम 6.30 से ओपनिंग सेरेमनी होगी। इसमें ब्रिटेन के पॉप स्‍टार रॉबी विलियम्‍स अमेरिकन एक्‍टर विल स्मिथ परफॉर्म करेंगे। फाइनल 15 जुलाई को होगा। टूर्नामेंट को दुनिया में 3.5 अरब लोग देखेंगे। टूर्नामेंट से फीफाकको 41 हजार करोड़ की कमाई होगी। वर्ल्‍ड कप में पहली बार पनामा आइसलैंड पहली बार खेलेंगे- आइसलैंड(3.40 लाख) टूर्नामेंट का सबसे कम आबादी वाला देश है। चिप वाली फुटबॉल- खिलाड़ी चिप लगी फुटबॉल टेलस्‍टार-18 से खेलेंगे। चिप से स्‍मार्टफोन कनेक्‍ट किया जा सकता है। ओपनिंग मैच में ‘बॉल गर्ल’- 14 लड़कियां ‘बॉल गर्ल’ रहेंगी। भारत के रिषि, नथानिया जॉन भी बॉल कैरियर होंगे। वीएआर टेक्‍नोलॉजी- वीएआर
दुश्‍मन बने दोस्‍त, मिली सुरक्षा की गारंटी, 12 नाकामयाब, फिर मिली कामयाबी

दुश्‍मन बने दोस्‍त, मिली सुरक्षा की गारंटी, 12 नाकामयाब, फिर मिली कामयाबी

दुनियामे हलचल
सिंगापुर न्‍यूज 4 इंडिया। 70 साल से दुश्‍मन रहे अमेरिका और उत्‍तर कोरिया के बीच 12 जून को पहली बार बातचीत हुई। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप और उत्‍तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन सिंगापुर में मिले। 71 साल के ट्रंप ने 34 साल के किम को परमाणु हथियार पूरी तरह खत्‍म करने पर राजी कर लिया। ट्रंप ने बदले में सुरक्षा की गांरटी दी। उत्‍तर कोरिया की बड़ी मांग मानते हुए ट्रंप ने दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्‍त युद्ध अभ्‍यास खत्‍म कर दिया। हालांकि, परमाणु निरस्‍त्रीकरण शुरू होने तक उत्‍तर कोरिया पर प्रतिबंध जारी रहेंगे। पहली बार मिले ट्रंप-किम ने 12 सेकेंड हाथ मिलाया। दोनों 90 मिनट साथ रहे। 38 मिनट अकेले में बात की। प्रति‍निधिमंडलों के साथ लंच के दौरान वार्ता की। गार्डन में साथ टहले। दोनों ने करार पर हस्‍ताक्षर किए। 70 साल में अमेरिका और उत्‍तर कोरिया में यह पहला करार है। 12 अमेरिकी राष्‍ट्रपति
स्‍टीफन हॉकिंग के सम्‍मान में 10 फेलोशिप

स्‍टीफन हॉकिंग के सम्‍मान में 10 फेलोशिप

दुनियामे हलचल
लंदन न्‍यूज 4 इंडिया। यूके सरकार ने वैज्ञानिक स्‍टीफन हॉकिंग के सम्‍मान में 10 रिसर्च फेलोशिप देने की घोषणा की है ये फेलोशिप मैथ्‍स, फिजिक्‍स और कंप्‍यूटर साइंस में अच्‍छा काम कर रहे पीएचडी स्‍टूडेंट्स को मिलेगी।
शांति के लिए निरस्त्रीकरण जरूरी

शांति के लिए निरस्त्रीकरण जरूरी

दुनियामे हलचल
बीजिंग न्‍यूज 4 इंडिया।  सिंगापुर में मंगलवार को डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन के बीच ऐतिहासिक मुलाकात हुई। दोनों नेताओं ने दस्तावेज पर हस्ताक्षर भी किए। वार्ता पर चीन ने कहा कि शांति के लिए निरस्त्रीकरण जरूरी है। वहीं, दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति ने कहा कि मुलाकात के बारे में सोचकर मुझे रात में बमुश्किल ही नींद आई। अमेरिकी पत्रकारों के सामने अकेले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रम्प ने समिट को मुमकिन बनाने के लिए चीन और दक्षिण कोरिया की तारीफ की। उन्होंने कहा कि चीन एक महान नेता वाला महान देश है। वहीं दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन के बारे में ट्रम्प ने कहा कि वे मेरे काफी करीबी दोस्त हैं और उन्हें मीटिंग के बारे में हर जानकारी दी गई है। दोनों नेताओं ने इतिहास बनाया - चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा, "ट्रम्प और उन साथ बैठे। बराबरी के आधार पर सकारात्मक बात की। दोनों नेताओं ने इत
65 साल में पहली बार उ.कोरिया-अमेरिका में करार

65 साल में पहली बार उ.कोरिया-अमेरिका में करार

दुनियामे हलचल
 सिंगापुर  न्‍यूज 4 इंडिया।    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोन-उन के बीच बातचीत कामयाब होने पर मंगलवार को दुनिया ने राहत की सांस ली है। यह बातचीत करीब 90 मिनट चली। इसमें 38 मिनट की निजी बातचीत भी शामिल है। इसमें ट्रम्प ने किम को पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए राजी कर लिया। इस पर जल्द काम शुरू हो जाएगा। बदले में अमेरिकी ने उसे सुरक्षा का भरोसा दिया। इसके लिए दोनों नेताओं ने एक करार पर हस्ताक्षर किए। इस तरह अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच पिछले 65 साल बंद बातचीत फिर से शुरू हो गई। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ड्वाइट आइजनहॉवर (1953) से लेकर बराक ओबामा(2016) तक 11 अमेरिकी राष्ट्रपतियों ने उत्तर कोरिया का मसला सुलझाने की कोशिश की, लेकिन बात नहीं बनी थी। ट्रम्प ने कहा- दुनिया की सबसे बड़ी और खतरनाक समस्या का हल हो गया - ट्रम्प और किम के बीच यह मुलाक
ग्‍लोबल ट्रेड वार का खतरा

ग्‍लोबल ट्रेड वार का खतरा

दुनियामे हलचल
कनाडा न्‍यूज 4 इंडिया। कनाडा के क्‍यूबेक सिटी में जी7 देशों का दो दिवसीय शिखर सम्‍मेलन अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के बयानों और अमेरिका फर्स्‍ट के तहत अपनाई जा रही नीतियों की वजह से तमाशा बनकर रह गया। सम्‍मेलन के समापन से पहले ही वहां से रवाना हुए ट्रंप ने जी7 के आमराय वाले बयान को खारिज कर दिया और मेजबान कनाडा को अपमानित भी किया। जी7 के सदस्‍य देश पहले ही ट्रंप की ट्रेड पॉलिसी को लेकर नाखुश थे अब नए हालात में ग्‍लोबल ट्रेड वार शुरू होने का खतरा बढ़ गया है। क्‍यूबेक सिटी से रवाना होने के बाद ट्रंप के किए गए ट्वीट का कनाडा जर्मनी और फ्रांस ने कड़ा विरोध किया। ट्रंप ने ट्वीट में कनाडा के प्रधानमंत्री को कमजोर, झूठा और बेईमान कहा। ट्रंप ने कहा जस्टिन ट्रूडो के झूठे बयान और कनाडा की ओर से अमेरिकी किसानों, श्रमिकों और कंपनियों पर बड़े पैमाने पर टैरिफ लगाने के आधार पर मैंने अपने अमेरि
जो प्रोजेक्‍ट अखंडता का सम्‍मान करेगा उसी के साथ हम

जो प्रोजेक्‍ट अखंडता का सम्‍मान करेगा उसी के साथ हम

दुनियामे हलचल
क्विंगदाओ न्‍यूज 4 इंडिया। चीन के क्विंगदाओ में 10 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18वें शंघाई सहयोग संगठन सम्‍मेलन के प्‍लेनरीसत्र को संबोधित किया। इसमें उन्‍होंने आतंकवाद का मुद्दा उठाया। मोदी ने चीन को भी इशारों में नसीहत भी दी। मोदी ने संप्रभुता आर्थिक विकास और एससीओ देशों में एकता और कनेक्टिविटी पर जोर दिया। मोदी ने कहा कि भारत किसी भी ऐसे प्रोजेक्‍ट का स्‍वागत करेगा, जो समावेशी, टिकाऊ और पारदर्शी हो। सभी सदस्‍य देशों की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता का सम्‍मान करे। असल में मोदी ने चीन के ‘वन बेल्‍ट वन रोड’ प्रोजेक्‍ट को निशाना बनाया। जिसके तहत वह पाक अधिकृत कश्‍मीर में सड़क निर्माण कर रहा है। मोदी ने समिटमें ‘सक्‍योर’ मंत्री भी दिया। इसमें उन्‍होंने सेक्‍योर का पुलफार्म भी बताया। बोले-कनेक्टि‍विटी का मतलब सिर्फ भौगालिक कनेक्‍शन नहीं, बल्कि एक-दूसरे के नागरिकों का कनेक्‍शन है
अदालत में पेश हुए तो गिरफ्तारी भी नहीं होगी

अदालत में पेश हुए तो गिरफ्तारी भी नहीं होगी

दुनियामे हलचल
इस्लामाबाद न्‍यूज 4 इंडिया।   पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ अगला आम चुनाव लड़ सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को इसकी इजाजत दे दी। हालांकि, शर्त रखी है कि उन्हें 13 जून को खुद पेश होना होगा। कोर्ट ने वादा किया है कि अगर वे पेश हुए तो उनकी गिरफ्तार भी नहीं होगी। बता दें कि 2013 में पेशावर हाईकोर्ट ने मुशर्रफ के पाकिस्तान आने पर आजीवन रोक लगा दी थी। मुशर्रफ ने उस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। एपीएमएल ने कहा- अपनी पुरानी सीट से चुनाव लड़ेंगे मुशर्रफ - मुशर्रफ की पार्टी ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एपीएमएल) के जनरल सेक्रेटरी मोहम्मद अमजद ने कहा कि मुशर्रफ चुनाव से पहले पाकिस्तान लौटेंगे। जल्द ही कुछ उम्मीदवारों का एेलान भी किया जाएगा। - अमजद से यह भी कहा कि मुशर्रफ खैबर पख्तूनख्वा की अपनी पुरानी चित्रल सीट से ही चुनाव लड़ेंगे। - कुछ समय पहले ऐसी खबरें आ
ब्रह्मपुत्र का पानी छोड़ने से पहले  मिलेगी सूचना

ब्रह्मपुत्र का पानी छोड़ने से पहले मिलेगी सूचना

दुनियामे हलचल
बीजिंग न्‍यूज 4 इंडिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शंघाई को-ऑपरेशन आर्गनाइजेशन समिट (एससीओ) में हिस्सा लेने शनिवार को चीन के किंगदाओ पहुंचे। यहां उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय बातचीत की। पिछले दो महीनों में दोनों नेताओं की यह दूसरी मुलाकात है। दोनों देशों के बीच ब्रह्मपुत्र और खेती को लेकर दो अहम समझौते हुए हैं। करार के तहत चीन ब्रह्मपुत्र का पानी छोड़ने से पहले भारत को सूचना देगा। चीन ने भारत से बासमति के अलावा दूसरे किस्म के चावल खरीदने पर भी सहमति जताई है। इस समिट में भारत-पाकिस्तान बतौर सदस्य पहली बार शामिल हो रहे हैं। भारत ने साफ किया है कि पाक के साथ कोई आधिकारिक मुलाकात नहीं होगी। 2019 में भारत की यात्रा करेंगे जिनपिंग - विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि जिनपिंग ने मोदी आमंत्रण स्वीकार किया है। वे 2019 में भारत आएंगे। - गोखले के मुताबिक, "जिनपिंग
17 साल में पहली बार ईद पर

17 साल में पहली बार ईद पर

दुनियामे हलचल
काबुल न्‍यूज 4 इंडिया।  अफगानिस्तान में आतंकी संगठन तालिबान ने ईद के मद्देनजर सरकार के संघर्षविराम के प्रस्ताव को मान लिया है। फर्क इतना है कि राष्ट्रपति अब्दुल गनी ने सात दिन संघर्ष विराम की बात रखी थी, लेकिन आतंकी संगठन सिर्फ तीन दिन के लिए राजी हुआ है। बता दें कि 2001 में अमेरिका से संघर्ष शुरू होने के बाद ये पहली बार है कि तालिबान ने सुरक्षाबलों के साथ ऐसा समझौता किया हो। हालांकि, संगठन ने चेतावनी भी दी है कि अगर इस दौरान उस पर किसी तरह का हमला किया जाता है या युद्ध छेड़ा जाता है तो वह माकूल जवाब देगा। इसके अलावा आतंकियों ने विदेशी सैनिकों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखने की भी बात कही। पत्रकारों को भेजा वॉट्सएप मैसेज - तालिबान ने इससे जुड़ा एक संदेश अफगानिस्तान के सभी पत्रकारों को भेजा। इसमें संगठन ने लिखा, “सभी मुजाहिद्दीनों को निर्देश है कि वे ईद के पहले तीन दिन अफगान सुरक्षाबलों