मध्य प्रदेश

वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की चल रही तैयारी

वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की चल रही तैयारी

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, मध्य प्रदेश
छिंदवाड़ा //2 जुलाई को आयोजित होने वाले नर्मदा अभियान के तहत इस पौधारोपण कार्यक्रम में नर्मदा बेसिन से जुड़े क्षेत्रों में 1 दिन में 1600000 पौधों का रोपण किया जाएगा। जिसके तहत प्रदेश स्तर पर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए प्रशासन ने तैयारियों में पूरा जोर लगा दिया है ।प्रशासन ने 283 गांवों का चयन किया है ,ऐसा आयोजन पहली बार किया जा रहा है ,जिसमें जिले के 103 ग्राम पंचायतें चिन्हित की गई है ।जहां बड़े स्तर पर पौधारोपण किया जाएगा ।नर्मदा मिशन के तहत आयोजित हो रहे इस पौधारोपण कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों के अलावा स्वयंसेवी संस्थाएं भी हिस्सा ले रही है ।यह कार्यक्रम तीन विभागों के संयुक्त अभियान से होगा जिसमें 650000 पौधे ग्रामीण विकास विभाग लगाएगा तथा बाकी के 950000 पौधे वन विभाग एग्रीकल्चर और हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट मिलकर लगाने वाले हैं सबसे अधिक पौधे लगाए जाने का उद्देश्य हर्रई विकासखंड ह
मृतक गया था तीर्थ यात्रा करने

मृतक गया था तीर्थ यात्रा करने

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, मध्य प्रदेश
छिंदवाड़ा //गौरतलब है कि पिछले मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना से वैष्णों देवी तीर्थ दर्शन यात्रा के लिए जो सूची जारी हुई थी उसमें छोटी बाजार निवासी श्रीराम शर्मा का नाम जोड़ा गया है जबकि उनकी मृत्यु हो चुकी है ,दरअसल इस मामले की जांच के लिए अपर कलेक्टर आलोक श्रीवास्तव ने नगर निगम आयुक्त इक्षित गढ़ेपाल को पत्र लिखा है ,लेकिन आयुक्त के अनुसार यह पत्र अब तक निगम कार्यालय नहीं पहुंचा है, ऐसी स्थिति में मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में हुई इस गड़बड़ी के पीछे कौन जिम्मेदार है ?इसकी जांच नहीं हो पाई है जबकि अपर कलेक्टर आलोक श्रीवास्तव का कहना है कि उन्होंने इसकी जांच के लिए नगर निगम आयुक्त को पत्र लिखकर इसकी जांच करने के निर्देश दिए थे क्योंकि तीर्थ दर्शन योजना के यात्रियों की सूची नगर निगम कार्यालय से ही आती है इस आधार पर मृत व्यक्ति का नाम कैसे इस सूची में आया ,इसकी बेहतर जांच नगर निगम द्वार
सांसद कमलनाथ और जिले के प्रभारी मंत्री गौरी शंकर के बोल

सांसद कमलनाथ और जिले के प्रभारी मंत्री गौरी शंकर के बोल

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, मध्य प्रदेश
छिंदवाड़ा समाचार किसानों की मौत के लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार _कमलनाथ छिंदवाड़ा// तीन दिवसीय दौरे पर आए सांसद कमलनाथ बटका खापा में हुई आमसभा । प्रदेश में किसान आंदोलन में हुई 6 किसानों की मौत और अब तक 16 किसानों की आत्महत्या के लिए सांसद कमलनाथ ने प्रदेश की भाजपा और शिवराज सरकार को जिम्मेदार बताया, उन्होंने कहां की कांग्रेस पार्टी प्रदेश के किसानों के लिए आवाज उठाएगी और किसानो का कर्जा माफ कर निशुल्क बिजली के जरिए उपज हो इसके लिए संघर्ष करेगी। मैं कांग्रेस की जेड खोद सकता हूं- बिसेन छिंदवाड़ा //छिंदवाड़ा के प्रभारी मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने कहा कि मैं कांग्रेस की जडे खोद सकता हूं ।कांग्रेस हर मृत्यु को कर्ज से दबे किसान की मृत्यु बताकर लाशो पर राजनीति कर रही है मैं इसे धिक्कार मानता हूं प्रदेश में किसानों की आत्महत्या के मामले एवं इस संबंध में कांग्रेस के आंदोलन को लेकर पत्र
सी सी टीवी कैमरे  की निगरानी में चल रहा था अवैध कारोबार

सी सी टीवी कैमरे की निगरानी में चल रहा था अवैध कारोबार

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, मध्य प्रदेश
छिंदवाड़ा पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी की बड़ी कार्रवाई, आईपीएल पर सट्टा लगाने वाले अन्तर्राज्यी गिरोह का भंडाफोड़ छिन्दवाड़ा //आईपीएल मैचों के दौरान कोयलांचल मे क्रिकेट सटटा खेले जाने की बात लम्बे समय से चर्चा का विषय रही है परन्तु कही न कही इन सटोरियों को उच्च स्तर से मूक सहमति दिये जाने के कारण सटटा का कारोबार फलफूल रहा था ।किन्तू छिन्दवाडा के अति सवेंदनशील पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा स्थानीय पुलिस को सूचना दिये बगैर ही जिले की टीम द्वारा चांदामेटा के तथाकथित राजनैतिक दल के नेता एवं दो बार जिला बदर हो चुका सटटा माफिया लवकुश अग्रवाल के घर छापामारी की गई ।जिसमे पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई। और अंतर्राज्यीय सटटा गिरोह का खुलासा हुआ। छापामार कार्यवाही में 40 मोबाइल 1लाख नगद, टीवी 2, लेपटाप 1, कम्प्यूटर 1,पेनड्राईभ 2, बैटरी के साथ आधुनिक उपकरण मिले । मुख्य आरोपी लवकुश पिता पतिराम अग्
डंडा लेकर दौडी महिलाएं तो  पुलिस भी भागती नजर आई

डंडा लेकर दौडी महिलाएं तो पुलिस भी भागती नजर आई

मध्य प्रदेश
होशंगाबाद //कहा जाता है कि जब नारी शक्ति जागृत हो जाती है तो उसके सामने सब कुछ बेबस हो जाता है ऐसा ही कुछ मामला होशंगाबाद के सिवनी मालवा में देखने को आया जहां शराबबंदी को लेकर महिलाएं आगे आई और शराब की दुकान पर पहुंचकर जमकर हंगामा मचाया और साथ ही यहां आने वाले शराबियों की डंडे से पिटाई भी शुरू कर दी यह सब देख कर शराब ठेकेदार के कर्मचारियों ने पुलिस को इस बात की सूचना दी .सूचना मिलते ही पुलिस भी दौड़ कर आने के लिए मजबूर हो गई ,इस दौरान महिलाएं पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष के पास पहुंच चुकी थी वहां भी महिलाओं ने हंगामा करते हुए शराबबंदी करने को कहा ,इसके बाद महिलाएं दोबारा शराब दुकान में पहुंच गई और एवं प्रदर्शन करने लगी इस बीच पुलिस ने महिलाओं को समझाइस देकर वरिष्ठ अधिकारियों से मिलने की सलाह दी, महिलाओं ने ज्ञापन सौपकर प्रशासन से शराबबंदी करने के लिए कहा, एसडीएम के आश्वासन के बाद की महिलाए
महिला IAS और महिला पुलिस अफसर में विवाद

महिला IAS और महिला पुलिस अफसर में विवाद

मध्य प्रदेश
नागदा/इंदौर। यहां सर्किट हाउस में रुम बुकिंग को लेकर महिला आईएएस व नागदा एसडीएम ऋजु बाफना और शाजापुर एएसपी ज्योति ठाकुर के बीच जमकर विवाद हुआ। दोनों महिला अफसरों ने एक दूसरे की शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों से की है। दोनों महिला अफसरों का आरोप है कि उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया है। मामला अब वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में है। एएसपी ठाकुर का कहना है कि उन्होंने मोबाइल पर सिर्फ इतना कहा था कि एसडीएम से बात करना है, इतने में ही वे भड़क गई। एसडीएम बाफना का कहना है कि एएसपी को बात करने का लिहाज नहीं है, वे तू कहकर बात कर रही थी। एसडीएम ने इसकी शिकायत शाजापुर एसपी से की है। इधर, एएसपी ने उज्जैन कलेक्टर से एसडीएम की शिकायत की है।SDM बाफना को फोन लगाया मामला मंगलवार दोपहर का है। शाजापुर एएसपी ठाकुर किसी विवाह समारोह में भाग लेने के लिए नागदा आई थी। यहां उन्होंने कुछ घंटे के लिए सर्किट हाउस में रू
दूल्हे की डिमांड.. सुनते ही दुल्हन हुई बेहोश !

दूल्हे की डिमांड.. सुनते ही दुल्हन हुई बेहोश !

मध्य प्रदेश
ग्वालियर// सात फेरों का ख्वाब देख रही दुल्हन का सपना उस समय चकना चूर हो गया जब लालची दूल्हा शादी से पहले ही एक लाख रुपए वाली बाइक की मांग करने लगा। दूल्हे की डिमांड सुनते ही दुल्हन शादी के मंडप में बेहोश हो गई। मामला मप्र के ग्वालियर का है। दूल्हे ने की मंहगी बाइक की डिमांड जानकारी मुताबिक जीतेंद्र कुशवाह नाम के लड़के की शादी ग्वालियर में सपना से तय हुई थी। शादी वाले दिन लड़की वालों ने बारात का शानदार स्वागत किया। वरमाला के बाद जैसे ही फेरे की बारी आई जीतेन्द्र ने कहा कि उसे एक लाख रुपए वाली बाइक चाहिए। लड़की के परिजनों ने बताया कि उसे हीरो बाइक दी जा रही है। यह सुनते ही जीतेन्द्र नाराज हो गया और बोला, अब फेरे तभी होंगे, जब एक लाख रुपए कीमत वाली बाइक मिलेगी। यह डिमांड सुनते ही शादी के मंडप में बैठी दुल्हन सपना बेहोश हो गई। दूल्हे जितेन्द्र सपना को अपने साथ ना ले जाने की धमकी दे दी।
एक आम युवक से मिली मंत्री को गहरी प्रेरणा

एक आम युवक से मिली मंत्री को गहरी प्रेरणा

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, मध्य प्रदेश
छिंदवाड़ा। प्रदेश के कृषि मंत्री और छिंदवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने देहदान की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि मृत्यु उपरांत मेरा शरीर मेडिकल कॉलेज के छात्रों के अध्ययन के काम आये। अब यही उनकी इच्छा है।उन्होंने कहा कि एक इंजीनियर से प्रेरित होकर उन्होंने ये फैसला लिया है। उन्होंने बताया कि छिंदवाड़ा के न्यूटन में बस दुर्घटना में लालबर्रा के इंजीनियर शैलेन्द्र पिता मनमोहन कटरे का हाथ कटने के बाद उन्होंने हाथ दान कर दिया था। जिससे प्रेरित होकर मैंने आज देहदान का फैसला लिया हूं। मेरी मृत्यु के बाद मेरा शरीर पंचतत्व में विलीन नहीं होगा। बल्कि मेडिकल कॉलेज में छात्र छात्राओं के अध्ययन के काम आएगा।
ऐसा क्या कह दिया इस कलेक्टर ने जो हो गया इतना वायरल

ऐसा क्या कह दिया इस कलेक्टर ने जो हो गया इतना वायरल

मध्य प्रदेश
सिवनी कलेक्टर धनराजू एस की पोस्ट हो रही जमकर वायरल सोशल मीडिया फेसबुक पर कलेक्टर सिवनी नाम से बने पेज पर जिला कलेक्टर धनराजू एस. के द्वारा लिखी गयी मार्मिक पोस्ट न केवल सराही जा रही है वरन उस पर टिप्पणी करने वालों का तांता लगा हुआ है। कलेक्टर धनराजू एस. ने लिखा है कि : ​साथियों, जैसा हमेशा होते आ रहा है वैसा ही हो रहा है, वर्तमान चर्चा का विषय तेज गर्मी है । क्योंकि हमारी चिंता एवं चर्चा का विषय मौसमी (Seasonal) है । ग्रीष्म ऋतू में गर्मी की, वर्षा ऋतू में बाढ़ की, चुनाव के दौरान देश की……. बाकि समय तो हमारे मनोरंजन के लिए अनलिमिटेड डाटा प्लान्स, व्हाट्सफप, बॉलीवुड, आय पी एल, मीडिया ,पिज़्ज़ा हट उपलब्धं है । तेज गर्मी का फायदा लोग अपनी-अपनी क्षमता के अनुसार समाजसेवी, सेवाभावी, संवेदन शील इत्यादि प्रशंसा के पात्र बनने के लिए उठा रहे है । कोई एयर कंडिशनर गर्मी के साथ सरकारी अस्पतालो
दिल के अरमां आंसुओ में बह गए……

दिल के अरमां आंसुओ में बह गए……

मध्य प्रदेश, राष्ट्रीय खबर
भोपाल// केंद्र की मोदी सरकार के फैसले के बाद शिवराज सरकार ने भी लालबत्ती छोड़ने का फैसला ले लिया, जब प्रदेश के मुखिया ही लाल बत्ती छोड़ रहे हैं तो बाकी नेताओं को भी मन मसोसकर रहना पड़ा, इनके फैसले के कारण MP में ऐसे अनेक निगम मंडल अध्यक्ष है जो 6 महीने भी लाल बत्ती का लुत्फ नहीं ले सकें ।इनका कैबिनेट राज्य मंत्री का दर्जा तो बरकरार रहेगा लेकिन इन्हें लालबत्ती छोड़नी पड़ी ।कई तो ऐसे ही जिनको कुछ दिनों पहले ही लाल बत्ती की मंजूरी मिल पाई थी, लेकिन जब तक आदेश निकले तब तक केंद्र से तक नेताओं ने लाल बत्ती छोड़ दी थी ।अब वह लाल बत्ती नहीं लगा सकते। महज कैबिनेट मंत्री के दर्जे का रुतबा ही हासिल हाथआया ,इससे बुरा हाल तो जिला पंचायत के अध्यक्षों की है जिन्होंने लंबी लड़ाई के बाद लाल बत्ती ली थी, पिछले साल ही सितंबर में सरकार ने लंबे आंदोलन के बाद इन को लाल बत्ती दी थी, लेकिन यह महज 6 महीने ही ल