[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: NEWS INDIA | News 4 India - Part 30

Author: NEWS INDIA

यह क्या किया इस महिला शिक्षक ने…….

यह क्या किया इस महिला शिक्षक ने…….

शिक्षा रोजगार
तमिलनाडु //तमिलनाडु की एक महिला टीचर ने अपने गहने बेचकर बच्चों के लिए स्मार्ट क्लासरूम बनाया है. विल्लुपुरम में पंचायत यूनियन प्राइमरी स्कूल की टीचर अनपूर्णा मोहन ने अपनी स्टूडेंट्स को बेहतरीन शिक्षा देने के लिए अपने सारे जेवर बेच दिए ,और उन पैसों से उन्होंने इस स्कूल में बेहतरीन फर्नीचर, किताबें ,खूबसूरत क्लासरूम और स्मार्ट डिजिटल टीचिंग उपलब्ध करा रही है।तीसरी कक्षा के बच्चों को अंग्रेजी पढ़ाने वाली अन्नपूर्णा मोहन का मानना है सभी हाईटेक सुविधाएं ग्रामीण बच्चों को भी मिलना चाहिए ,उन्होंने बच्चों के लिए बनाएं अपने क्लास को एकदम इंटरनेशनल दुख दिया है क्लास में स्मार्ट बोर्ड ,अंग्रेजी किताबें, आरामदायक फर्नीचर मौजूद है ।अन्नपूर्णा ने कहा कि सिर्फ सुविधाओं को ही ध्यान में नहीं रखा गया है हमने बच्चों के अंग्रेजी बोलने की व्यवस्था की है ताकि पंचायत का स्कूल ना होने के चलते किसी चीज की कमी
दिल के अरमां आंसुओ में बह गए……

दिल के अरमां आंसुओ में बह गए……

मध्य प्रदेश, राष्ट्रीय खबर
भोपाल// केंद्र की मोदी सरकार के फैसले के बाद शिवराज सरकार ने भी लालबत्ती छोड़ने का फैसला ले लिया, जब प्रदेश के मुखिया ही लाल बत्ती छोड़ रहे हैं तो बाकी नेताओं को भी मन मसोसकर रहना पड़ा, इनके फैसले के कारण MP में ऐसे अनेक निगम मंडल अध्यक्ष है जो 6 महीने भी लाल बत्ती का लुत्फ नहीं ले सकें ।इनका कैबिनेट राज्य मंत्री का दर्जा तो बरकरार रहेगा लेकिन इन्हें लालबत्ती छोड़नी पड़ी ।कई तो ऐसे ही जिनको कुछ दिनों पहले ही लाल बत्ती की मंजूरी मिल पाई थी, लेकिन जब तक आदेश निकले तब तक केंद्र से तक नेताओं ने लाल बत्ती छोड़ दी थी ।अब वह लाल बत्ती नहीं लगा सकते। महज कैबिनेट मंत्री के दर्जे का रुतबा ही हासिल हाथआया ,इससे बुरा हाल तो जिला पंचायत के अध्यक्षों की है जिन्होंने लंबी लड़ाई के बाद लाल बत्ती ली थी, पिछले साल ही सितंबर में सरकार ने लंबे आंदोलन के बाद इन को लाल बत्ती दी थी, लेकिन यह महज 6 महीने ही ल
सहकारी समिति में भड़की आग, 13 जिंदा जले

सहकारी समिति में भड़की आग, 13 जिंदा जले

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, मध्य प्रदेश
छिंदवाड़ा. हर्रई के बारगी स्थित सहकारी समिति केंद्र में केरोसिन वितरण के दौरान केरोसिन में लगी आग से करीब 13 लोगों की मौत हो गई। बारगी सहकारी समिति केंद्र में केरोसिन और खाद्यान्न वितरण किया जा रहा था। राशन लेने के करीब सैकड़ों ग्रामीण कतार में भवन के सामने मौजूद थे। जबकि कक्ष के अंदर करीब तीन दर्जन से अधिक लोग थे। इसी दौरान केरोसिन में आग लग गई। इससे पहले कि लोग कुछ समझ पाते केरोसिन ने पूरे कक्ष को अपनी चपेट में ले लिया। इस दौरान मची अफरा तफरी से कक्ष में मौजूद लोग बाहर भी नहीं निकल पाए। जानकारी के अनुसार कक्ष में करीब दो दर्जन लोगों के जिंदा जलने की खबर है. सी एम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा , हर्रई की घटना दिल दहला देने वाली है । मृतकों के परिवार को 4 लाख रूपये की मुवावजा राशि दी जायेगी ,साथ ही तुरंत सहायता हेतु 10 हज़ार रुपये मृतकों के अंतिम संस्कार हेतु दिए जाएंगे मंत्
अब LPG सिलेंडर की तर्ज पर घर-घर पहुंचाया जाएगा पेट्रोल-डीजल!

अब LPG सिलेंडर की तर्ज पर घर-घर पहुंचाया जाएगा पेट्रोल-डीजल!

उत्तर प्रदेश, मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्ली/ जो लोग रोजाना पेट्रोल पंपों पर लंबी-लंबी लाइनों से जुझते हैं उनके लिए राहत भरी खबर है। दरअसल, पेट्रोलियम मंत्रालय ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि केंद्र सरकार एक नई योजना पर काम कर रही है। जिसके तहत ग्राहकों की मांग पर घरेलू गैस की तरह ही अब पेट्रोल-डीजल भी उनके घर तक पहुंचाया जाएगा। पेट्रोलियम मंत्रालय के ट्वीट में कहा गया है कि 'प्री-बुकिंग पर ग्राहकों को उनके घर पर ही पेट्रो उत्पाद डिलीवर करने के विकल्प पर विचार किया जा रहा है। इस कदम से ग्राहकों को पेट्रोल पंपों पर होने वाली वक्त की बर्बादी और लंबी लाइनों से छुटकारा मिलेगा।'
अब किराये का घर हो जाएगा अपना, बन जाएंगे मकान मालिक!

अब किराये का घर हो जाएगा अपना, बन जाएंगे मकान मालिक!

ब्रेकिंग, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्ली: क्या आप किराए के घर में रहते हैं? यदि हां तो आपके लिये एक खुशखबरी है। मोदी सरकार एक ऐसे कानून पर विचार कर रही है जिसके तहत शहरों में आने वाले प्रवासी लोगों को सरकारी संस्थाओं से मकान किराए पर लेने की सुविधा होगी। इतना ही नहीं, भविष्य में उनके पास इस किराए के मकान को ही आसान किस्तों में पूरी कीमत चुकाकर खरीदने का भी विकल्प होगा। मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन पोवर्टी एविएशन के मुताबिक, इस स्कीम का नाम 'रेंट टु ओन' होगा, जिसे केंद्र सरकार की नेशनल अर्बन रेंटल हाउसिंग पॉलिसी के तहत लांच किया जाएगा। केंद्रीय शहरी विकास एवं आवास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि इस विधेयक को मंजूरी के लिए जल्दी ही कैबिनेट के समक्ष पेश किया जाएगा। इस स्कीम के तहत शुरुआत में कुछ निश्चित वर्षों के लिए घर लीज पर दिया जाएगा। खरीददार को प्रति माह ई.एम.आई. के बराबर किराया बैंक में जमा करना होगा। इसमें क
सोचते ही स्क्रीन पर टाइप होने लगेंगे शब्द

सोचते ही स्क्रीन पर टाइप होने लगेंगे शब्द

दुनियामे हलचल, शिक्षा रोजगार
नई दिल्ली। फेसबुक एक क्रांतिकारी परियोजना पर काम कर रही है। बिल्डिंग 8 प्रोजेक्ट के जरिए यह कंपनी माइंड रीडिंग तकनीक विकसित करने में लगी है। इसके जरिए भविष्य में हाथों से टाइप करने की जहमत नहीं उठानी होगी। बस जो लिखना है उसे दिमाग में सोचना भर काफी होगा। शब्द स्मार्टफोन और कंप्यूटर स्क्रीन पर अपने आप लिख जाएंगे। परियोजना की बागडोर अमेरिकी सेना के रिसर्च विंग, डिफेंस एंडवास्ड रिसर्च प्रोजेक्ट्स एजेंसी (डारपा) की पूर्व प्रमुख रेजिना ड्यूगन के हाथ में है। कैलीफोर्निया के सैन जोस में चल रही सालाना एफ-8 डेवलपर्स कांफ्रेंस में फेसबुक ने यह परियोजना साझा की है। इंजीनियर्स की टीम कंपनी ने प्रोजेक्ट के लिए 60 इंजीनियरों की टीम बनाई है। यह टीम ब्रेन कंप्यूटर इंटरफेस विकसित कर रही है। इस तकनीक में इंसान के दिमाग को स्कैन करने के लिए ऑप्टिकल इमेजिंग का सहारा लिया जाएगा। इसके लिए यूजर्स को एक कै
ये मंत्री तो पिछले 9 सालों से नहीं लगा रहे अपने वाहन पर लाल बत्ती

ये मंत्री तो पिछले 9 सालों से नहीं लगा रहे अपने वाहन पर लाल बत्ती

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह अपने वाहन पर नहीं लगाते लाल बत्ती रायपुर( छत्तीसगढ़)// केंद्रीय मंत्रिमंडल के देश में अति विशिष्ट संस्कृति को समाप्त करने के लिए राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री समेत सभी विशिष्ट लोगों के वाहनों पर लाल बत्ती हटाने के निर्णय का गर्मजोशी से स्वागत करने वाले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह अपने वाहन पर पिछले 9 वर्षों से लाल बत्ती नहीं लगा रहे हैं छत्तीसगढ़ में 2004 से चुनाव में भाजपा के सत्ता में आने के बाद से मुख्यमंत्री का पिछले लगभग साढे 13 वर्षों से दायित्व संभाल रहे हैं डॉक्टर रमन ने वर्ष 2008 से अपने वहां से लाल बत्ती हटवा दिया था.
अंततः विधायक को मुख्यमंत्री को लिखनी पड़ी चिट्ठी

अंततः विधायक को मुख्यमंत्री को लिखनी पड़ी चिट्ठी

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्दवाड़ा/ आखिरकार बच्चों को चिलचिलाती धूप से मिली राहत, जिला कलेक्टर द्वारा छुट्टी की घोषणा कर दी गई । कैसे मिली विद्यार्थियों और अभिभावकों को राहत जाने क्रमशः- चिलचिलाती धूप में परेशान बच्चे को देख कर छिंदवाड़ा विधायक चौधरी चंद्रभान सिंह से रहा नहीं गया और उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आखिर चिट्ठी लिख ही डाली, इस भरी गर्मी में स्कूल लगाया जा रहा है जिससे बच्चे परेशान हो रहे हैं इसलिए मैंने सीएम शिवराज सिंह चौहान को चिट्ठी लिखी है ,साथ ही कलेक्टर और जिला शिक्षा अधिकारी से स्कूलों की छुट्टी कराने के लिए भी कहा है यह कहना है छिंदवाड़ा विधायक चौधरी चंद्रभान सिंह का .तेज धूप में स्कूल लगाए जा रहे हैं भले ही जिला प्रशासन ने राहत देते हुए समय बदल कर 12:00 बजे तक कर दिया है लेकिन बच्चे अब भी परेशान हो रहे हैं क्योंकि दोपहर 12:00 बजे तक स्कूल लगने के बाद बच्चे दोपहर 1:
नहीं मिल पाएगी 108 एम्बुलेंस

नहीं मिल पाएगी 108 एम्बुलेंस

मध्य प्रदेश
अगर आपको जरूरत पड़ेगी, तो नहीं मिल पाएगी 108 एम्बुलेंस, घायलों को सड़क पर ही तड़पना पड़ेगा, बेहाल हो जाएंगी आकास्मिक व्यवस्थाएं आकास्मिक घटना के दौरान प्रदेश के नागरिकों के लिए 108 एम्बुलेंस की सेवा लगातार संजीवनी बन रही है। लेकिन पीडि़तों के लिए संजीवनी बनने वाली 108 एम्बुलेंस की सेवा में लगे कर्मचारियों का लगातार कंपनी द्वारा शोषण किए जाने के चलते उन्होंने आगामी दिनों में मांग पूरी न होने पर प्रदेश की करीब 606 एम्बुलेंस की सेवा में काम न करने की चेतावनी दी है। अगर सरकार 26 अप्रैल 2017 तक इनकी मांग को नहीं पूरा करवा पाती है तो प्रदेश से 108 के पहिए थम जाएंगे, जिससे आकास्मिक व्यवस्थाएं चरमरा जाएंगी और दुर्घटना में घायलों को एम्बुलेंस न मिलने के कारण तत्काल में राहत नहीं मिल पाएगी। अगर सरकार इनकी मांगों को पूरा कराने में सफल होती है तो शायद इनकी हड़ताल नहीं हो पाएगी और कर्मचारी काम करेंगे।