[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: NEWS INDIA | News 4 India - Part 30

Author: NEWS INDIA

भीषण सड़क हादसे में मशहूर अभिनेत्री रेखा की मौत, फैंस को लगा गहरा सदमा

भीषण सड़क हादसे में मशहूर अभिनेत्री रेखा की मौत, फैंस को लगा गहरा सदमा

राष्ट्रीय खबर
सड़क दुर्घटना में मरने वालों की खबरें आ दिन सुनने को मिलती है। अभी हाल ही में खबर आई थी जब मॉडल और एक्ट्रेस सोनिका चौहान की एक कार एक्सीडेंट में मौत हो गई थी। अब एक और पॉपुलर एक्ट्रेस ने सड़क दुर्घटना में अपनी जान गंवा दी है। खबर आई है कि कन्नड टेलीविजन एक्ट्रेस रेखा सिंधु की भी कार एक्सीडेंट में मौत हो गई है। हादसा के समय रेखा के साथ तीन लोग अभिषेक कुमारन (22), जयांकंद्रन (23) और रक्षन (20) भी मौजूद थे, उन तीनों की भी मौत हो गई। रेखा सिर्फ 22 साल की थीं। यह हादसा वैल्लौर स्थित नंद्रामल्ली के पास हुआ। रेखा और उनके साथी कार से बैंगलोर जा रहे थे, तभी परानामपटृटू के पास चैन्नई बैंगलोर हाईवे पर ये हादसा हुआ। यह खबर सुनकर उनके फैंस काफी दुखी हैं। हादसे की असली वजह अब तक पता नहीं चल पाई है।
हीरो सा अंदाज़ था उनका

हीरो सा अंदाज़ था उनका

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिंदवाड़ा. देहात थाना अंतर्गत परासिया रोड सूर्यवंशी पटवारी के ऑफिस के सामने दोपहर तीन बजे लाठी और हथियार से लैस आधा दर्जन से अधिक युवकों द्वारा शिवसेना जिला अध्यक्ष नरेन्द्र पटेल पर जानलेवा हमला किया गया। मौके से गुजर रहे सीएसपी शिवेश बघेल ने उसकी जान बचाई।बघेल अकेले हमलावरों के बीच कूद गए और मुख्य आरोपी के दबोच रखा जिससे वह कुछ कर नहीं पाया और इस तरह से नरेंद्र पटेल की जान बच गई।हमले की वजह आपसी और पुरानी रंजिश बताई जा रही है। घटना के बाद नरेन्द्र पटेल को सीएसपी द्वारा जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसके बाद उसे बाद में पुलिस की सुरक्षा के साथ नागपुर रैफर कर दिया गया है एएसपी नीरज सोनी ने बताया कि शिवसेना अध्यक्ष नरेन्द्र पटेल परासिया रोड आलू स्टोरेज के समीप स्थित पटवारी से मिलने के लिए गए थे। उसी दरमियान पुरानी रंजिश को लेकर आधा दर्जन से अधिक लोगों ने आंख पर मिर्ची डालकर उसपर
1000 से अधिक संत पत्थरों से भरा ट्रक लेकर होंगे कश्मीर रवाना

1000 से अधिक संत पत्थरों से भरा ट्रक लेकर होंगे कश्मीर रवाना

उत्तर प्रदेश, राष्ट्रीय खबर
कानपुरः जम्मू कश्मीर में भारतीय जवानों की मदद के लिए अब संत अागे अाए हैं। अलगाववादियों और आतंकवादियों से जूझ रहे सेना और अर्धसैनिक बलों के जवानों की सहायता के लिए संतों का एक जत्था रवाना होने की तैयारी कर रहा है। कानपुर से तकरीबन एक हजार संत 7 मई को कश्मीर रवाना होंगे। संतों ने बताया कि वह अपने साथ पत्थरों से भरा एक ट्रक भी लेकर जा रहे हैं। संतों ने कहा कि वह पत्थरबाजों को उन्हीं की भाषा में जवाब देंगे। जन सेना के संस्थापक बालयोगी चैतन्य महाराज ने मीडिया से बातचीत मेें कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो और भी संत सेना की मदद के लिए भेजे जाएंगे। संत चौतन्य बोले की कश्मीर में देशद्रोही हमारे जवानों पर पत्थर बरसा रहे हैं। इसलिए उन देशद्रोहियों को उन्हीं की भाषा में जवाब देने के लिए एक पत्थरबाजों की सेना तैयार की गई है तो कश्मीर जाकर उन्हें मुंह-तोड़ जवाब देगी। उन्होंने कहा कि हमने इस बारे में पीएम
WhatsApp में आया नया फीचर, चैटिंग होगी और आसान

WhatsApp में आया नया फीचर, चैटिंग होगी और आसान

Uncategorized, मनोरंजन, शिक्षा रोजगार
पॉपुलर इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp में एक नया फीचर आया है. पिन चैट नाम का यह फीचर आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. अगर आप फेसबुक या ट्विटर यूज करते हैं तो मुकमिन है आपको इसके बारे में जानकारी होगी. पिन पोस्ट के जरिए ट्विटर या फेसबुक के पोस्ट को सबसे ऊपर ला सकते हैं जो आपकी प्रोफाइल में ऊपर दिखेगा. हाल ही में व्हाट्सऐप पिन चैट फीचर की स्क्रीनशॉट लीक हुई ती. अब नए अपडेट के साथ यह यूजर्स को दिया जा सकता है. फिलहाल बीटा वर्जन में दिया गया है और अभी इसकी टेस्टिंग सिर्फ एंड्रॉयड के लिए हो रही है. एंड्रॉयड WhatsApp के Beta वर्जन 2.17.162 में यह फीचर दिया गया है जिसे सबसे पहले एंड्रॉयड पुलिस ने देखा और रिपोर्ट किया है. अगर आपके स्मार्टफोन में इस वर्जन का व्हाट्सऐप है तो आपको यह फीचर मिलेगा. किसी चैट को पिन करने के लिए यहां ऑप्शन मिलेंगे. टॉप पर पिन का सिंबल होगा जिसे क्लिक करके चै
बच्चों ने पीएम को लिखा 1 किमी लंबा पत्र

बच्चों ने पीएम को लिखा 1 किमी लंबा पत्र

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली। पाकिस्तान द्वारा जम्मू-कश्मीर के कृष्णा सेक्टर में भारतीय सैनिकों के साथ हुई बर्बरता को लेकर पूरे देश में गुस्सा भरा हुआ है। यह गुस्सा केवल बड़ों तक ही सिमित नहीं है बल्कि बच्चे भी इससे नाराज है। इस नाराजगी को जाहिर करने के लिए के लिए बच्चों ने पीएम मोदी को पत्र लिखा है और वो भी एक किमी लंबा। इन मासूमों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इंसाफ की मांग करते हुए पाकिस्‍तान से बदला लेने की बात कही है। बच्चों के इस पत्र में लिखा गया है कि हमारे देश के जवानों की शहादत बेकार नहीं जानी चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी को सख्त से सख्त कदम उठाना चाहिए और पाकिस्तान को करारा जबाव देना चाहिए, जिससे वो ऐसी हरकत दोबारा करना तो दूर सोच भी न सके। छात्रों ने अपील की है कि सरकार को इसका बदला लेना चाहिए। पत्र में आगे लिखा गया है कि हमें पाकिस्तान के नापाक इरादों को कामयाब नहीं होने देना चाहि
अगर लड़कियां करेगी फोन पर बात तो देना होगा 21 हजार का जुर्माना!

अगर लड़कियां करेगी फोन पर बात तो देना होगा 21 हजार का जुर्माना!

Uncategorized
मथुरा: यूपी के मथुरा में पंचायत ने गांव में अपराध पर शिकंजा कसने के लिए अनोखा फरमान सुनाया है। इसके तहत अगर कोई लड़की गांव के रास्ते में फोन पर बात करती मिली तो 21 हजार रुपए जुर्माना लगेगा। हर अपराध पर अलग जुर्माने की राशि निधार्रित की गई इतना ही नहीं पंचायत में अन्य कई अपराधों पर लगाम लगाए गए जिसके लिए हर अपराध पर अलग - अलग जुर्माने की राशि निधार्रित की गई। दरअसल ग्रामीणों ने अपनी बात रखते हुए कहा कि जैसा अपराध वैसी सजा होनी चाहिए। जिस पर गौर पर करते हुए पंचो ने यह फैसला लिया है कि अगर कोई अपराध हुआ है तो उसके लिए अलग - अलग समितियां बनाई जानी चाहिए। साथ ही पंचायत ने यह भी निर्णय लिया की यदि कोई लड़की रास्ते पर फोन पर बात करती हुई नजर आती है तो उसको 21 हजार का जुर्माना देना होगा।
पीएम मोदी कभी भी कर सकते हैं आपको फोन

पीएम मोदी कभी भी कर सकते हैं आपको फोन

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
  नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आम लोगों से अपना सीधा संवाद और मजबूत करेंगे। अब वह सीधे किसी भी समय आमलोगों से चल रही सरकारी योजनाओं के बारे में सीधे फीडबैक ले सकते हैं। - दरअसल "मन की बात" में अपने सुझाव देने के लिए लाखों लोग प्रधानमंत्री मोदी को फोन, ईमेल और अलग-अलग माध्यम से जुड़ते हैं। अभी उनमें से कई सुझाव का जिक्र पीएम मोदी अपने मन की बात के कार्यक्रम में भी करते हैं लेकिन सीधे बात करने से पीएम और आम लोगों के बीच दोतरफा संवाद शुरू होगा। - दरअसल पीएम मोदी ने इससे पहले भी कई मौकों पर जनता से संवाद कर उनसे मिले सुझावों को सरकार में जगह दी है। चाहे बजट में नये प्रस्ताव की बात हो या फिर नयी योजनाओं को नाम देने का मामला, पीएम ने सभी मुद्दों पर जनता की राय मांगने की परंपरा शुरू की। - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से इससे पहले कई पहले कई बार अपने सरकार के मंत्रियों
योगी आदित्यानाथ को 11 दिन के लिए किसने भेजा जेल…

योगी आदित्यानाथ को 11 दिन के लिए किसने भेजा जेल…

उत्तर प्रदेश
लखनऊ। । उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद बड़े स्तर पर प्रशासनिक अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। प्रदेश में 20 बड़े अधिकारियों के तबादले किए गए है, जिनमें से 9 अधिकारी एेसे हैं जिन्हें अब तक कोर्इ विभाग नहीं दिया गया है। इन्हीं में से एक अधिकारी हैं डाॅ. हरिआेम। डाॅ. हरिआेम का नाम आते की 10 साल पुराना वो किस्सा याद आ जाता है जब वर्तमान सीएम योगी आदित्यनाथ को गिरफ्तार कर उन्होंने जेल भेज दिया था। उस घटना की गूंज संसद तक में सुनार्इ दी थी। डाॅ. हरिआेम को अभी तक कोर्इ विभाग न देना भी उसी घटना से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, 23 जनवरी 2007 को गाेरखपुर में सांप्रदायिक तनाव फैला हुआ था  आैर तत्कालीन सांसद योगी आदित्यनाथ ने धरना देने का एेलान कर दिया। उस वक्त गोरखपुर में कर्फ्यू लगा हुआ था। इस कारण से वहां के तत्कालीन डीएम डाॅ. हरिआेम ने योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर में घु
ट्रंप ने भारत पर लगाये आरोप कहा ,अब ऐसा नहीं चलेगा

ट्रंप ने भारत पर लगाये आरोप कहा ,अब ऐसा नहीं चलेगा

दुनियामे हलचल, मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
• अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जल्द ही एकतरफा पेरिस जलवायु समझौते पर बड़े फैसले का वादा किया. उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिका से धन देने के लिए कहकर उसे अनुचित तरीके से निशाना बनाया जा रहा है जबकि रूस, चीन और भारत जैसे प्रदूषण करने वाले बड़े देश कुछ भी योगदान नहीं दे रहे हैं. चुनाव को उनके पक्ष में लाने में अहम भूमिका निभाने वाले राज्य पेनसिल्वानिया में प्रचार अभियान जैसी रैली में ट्रंप ने कहा कि जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौता एकतरफा है. उन्होंने राष्ट्रपति पद पर सौ दिन पूरे होने के मौके पर अपने भाषण में कहा कि मैं अगले दो सप्ताह में पेरिस समझौते पर बड़ा फैसला करूंगा और हम देखते हैं कि क्या होता है. भारत, रूस, चीन नहीं देते पैसा ट्रंप ने आरोप लगाया कि एकतरफा पेरिस जलवायु समझौते की तरह, जहां अमेरिका ने अरबों डालर दिये जबकि चीन, रूस और भारत योगदान करते हैं और लेकिन कोई योगदान नह
दृष्टिहीन लड़की बनी भारत की पहली आईएफएस

दृष्टिहीन लड़की बनी भारत की पहली आईएफएस

राष्ट्रीय खबर
चेन्नई। देश की पहली नेत्रहीन महिला आईएफएस अफसर बनकर 25 साल की बेनो जेफीन ने इतिहास रच दिया है। उन्होंने इस 69 साल पुरानी इस सेवा में अनोखी एंट्री की और अब फ्रांस में इंडियन फॉरेन सर्विस में अपनी सेवाएं देने जा रही हैं। बेनो साल 2014 में भारतीय विदेश सेवा में शामिल हुई थीं और उन्हें पेरिस के भारतीय दूतावास में पहली पोस्टिंग दी जा रही है। इस सेवा में चयनित होने से पहले वह स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में प्रोबेशनरी अधिकारी थीं। बेनो की इस सफलता का श्रेय वह अपनी मां और पिता को देती हैं। उनकी मां ने उन्हें घंटों किताबें और अखबार पढ़कर सुनाए, ताकि बेटी की तैयारी में कोई कमी न रह जाए। पिता ने वो सॉफ्टवेयर उनके कंप्यूटर में अपलोड की, जिसकी मदद से वे किताबों को पढ़ सकीं। बेनो ने ब्रेल पर अपनी निर्भरता छोड़कर जॉब एक्सेस विद स्पीच (JAWS) नाम के सॉफ्टवेयर की मदद ली। इस सॉफ्टवेयर की मदद से दृष्टिबाधित ल