[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: छिंदवाड़ा अप्डेट्स | News 4 India - Part 32

छिंदवाड़ा अप्डेट्स

वित्तीय घोटाले में मिली राहत ,बहाली पर उठ रहे सवाल

वित्तीय घोटाले में मिली राहत ,बहाली पर उठ रहे सवाल

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। जिला अस्‍पताल में दवाओं और सामग्री की खरीदी मामले में फंसे पूर्व सिविल सर्जन डॉ.पीके श्रीवास्‍तव को मप्र स्‍वास्‍थ्‍य संचालनालय ने बहाल कर दिया है तथा नवीन नियुक्ति डिडोंरी जिला मुख्‍यालय में कर दी है। इस संदर्भ में अपर संचालक विवेक क्षोत्रिय ने निर्देश जारी किए हैं कि 31 दिसंबर 2017 को डॉ. श्रीवास्‍तव सेवा निवृत्‍त हो रहे हैं, इसलिए उन्‍हें यह राहत दी गई है हालांकि वित्‍तीय मामले में चल रही विभागीय जांच जारी रहेगी। वित्‍तीय अनियमितता मामले में डॉ. श्रीवास्‍तव सहित अन्‍य चिकित्‍सा अधिकारी व कर्मचारी भी सस्‍पेंडचल रहे हैं। इस दौरान तत्‍कालीन सिविल सर्जन डॉ. नायूड सहित अन्‍य दो कर्मचारी भी सेवानिवृत्‍त हुए, लेकिन विभाग ने उन्‍हें बहाल नहीं किया, जबकि डॉ. श्रीवास्‍तव को बहाल करने का कारण उनकी सेवानिवृत्ति बताया गया है। संचालनालय के एक तरफा आदेश पर पीडि़त अध
अब घर तक आएगी अंकसूची

अब घर तक आएगी अंकसूची

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। माध्‍यमिक शिक्षा मंडल मप्र भोपाल ने परीक्षार्थियों की अंकसूची अथवा प्रमाण-पत्र में हुई त्रुटियों के सुधार के लिए ऑनलाइन सुविधा देने की तैयारी में है। इसके लिए आवेदक को माशिमं द्वारा निर्धारित निर्देशों के अनुरूप15 दिनों के अंदर आवेदन करना होगा। वहीं माशिमं अंकसूची या प्रमाण पत्र में आवश्‍यक संशोधन कर आवेदन के घर स्‍पीड पोस्‍ट के माध्‍यम से नवीन दस्‍तावेज मुद्रित कर भेजेगा। इस नवीन व्‍यवस्‍था से छात्रों को संशोधन के लिए अपने जिले में सुविधा मिल सकेगी। मप्र माध्‍यमिक शिक्षा मं‍डल के सचिव ने योजना के उचित प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए हैं। ऑफलाइन आवेदन नहीं होंगे मान्‍य अंकसूची या प्रमाण-पत्र में त्रुटियों के संशोधन के लिए अब ऑफलाइन आवेदन स्‍वीकार नहीं किए जाएंगे। साथ ही मूल दस्‍तावेज प्राप्‍त होने पर ही आवेदन ऑनलाइन स्‍वीकृति मान्‍य होगी। स्‍वीकृत आवेदनो
पैसो का खेल बना मौत का कारण…

पैसो का खेल बना मौत का कारण…

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, ब्रेकिंग, मुख्य समाचार
https://youtu.be/RHUbKHKq36Q छिन्दवाड़ा// अमरवाड़ा निवासी जमुना नायक एवं रत्नेश सूर्यवंशी निवासी बटका खापा के बीच पैसों के लेनदेन को लेकर काफी समय से अनबन चल रही थी ,जिसके चलते पैसे देने का कहकर रत्नेश ने जमुना को बटका खापा बुलाया जहां उसे अपने ईट भट्टे में ले जाकर उसे लाठी से वार कर उसके ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा दिया और बाद में अपने फोर व्हीलर वाहन से अपने अन्य चार साथियों के साथ शव को बोरे में भरकर पातालकोट घाटी में फेंक दिया ,स्थानीय पुलिस के द्वारा रत्नेश को हिरासत में ले कर शव को भारी मशक्कत करके घाटी से निकाला गया। आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 365 ,302, 201 तथा एससी एसटी एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। चार आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है तथा पांचवा आरोपी फरार है ,सभी आरोपियों के खिलाफ पूर्व में भी अपराधी प्रकरण दर्ज है पुलिस द्वारा आरोपियों के पास से एक गामा गाड
प्रेम ,शादी हत्या….

प्रेम ,शादी हत्या….

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, ब्रेकिंग, मुख्य समाचार
https://youtu.be/rUMyIgIWv_8 छिंदवाड़ा/शादी जैसे पवित्र बंधन के बाद किसी और से प्रेम संबंध का जो हश्र होता है ,वही हश्र इस प्रेम कहानी का भी हुआ। वैसे तो यह कत्ल बहुत ही सफाई पूर्ण ढंग से किया गया था ,फिर भी पुलिस ने मात्र 4 दिनों में इस अंधे कत्ल का पर्दाफाश कर दिया इन्वेस्टिगेशन में जो बात सामने निकल कर आई वो चौका देने वाली थी इन्वेस्टिगेशन में पता चला कि बबीता पति संजय पवार एवं मृतक संदीप बोडके दोनों ही आस-पास के गांव के रहने वाले थे ,बबीता और संजय के बीच प्रेम प्रसंग विवाह के पूर्व से चल रहा था ,दोनों की अलग-अलग जगह शादी होने के उपरांत भी मोबाइल से दोनों की बातें होती रहती थी, यह बात बबीता के पति संजय को ठीक नहीं लगी और बबीता से संदीप को समझाने के बहाने उसने इमलीखेड़ा चौक पर बुलवाया ,वहां से बबीता संदीप के साथ बैठकर सिमरिया हनुमान के पास आ गई ,जहाँ संजय पवार ने पीछे से आकर चाकू
ढाबा संचालक की करतूत, आखिरकार जाना पड़ा जेल

ढाबा संचालक की करतूत, आखिरकार जाना पड़ा जेल

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। कानून की लाख सख्‍ती के बाद भी जिला मुख्‍यालय पर जगह-जगह अवैध तरीके से शराब पिलाइ जा रही है। होटल और ढाबों सहित रेस्‍टॉरेंट में बेखौफ शराब परोसी जा रही है। पुलिस की कार्रवाई में यह पता चला है। 24 दिसंबर को देर रात तक ढाबा पर अवैध तरीके से शराब पिलाई जा रही थी। कोतवाली और कुंडीपुरा पुलिस की संयुक्‍त कार्रवाई में ढाबा संचालक को पकड़ा गया। 24 दिसंबर की रात मुखबिर की सूचना पर कोतवाली और कुं‍डीपुरा थाना पुलिस की संयुक्‍त टीम ने नागपुर रोड स्थित आशीर्वाद ढाबा की घेराबंदी कर दबिश दी। ढाबा के अंदर शराब पिलाई जा रही थी। टीम ने शराब पीते कुछ लोगों को भी मौके पर पकड़ा। देर रात तक चली कार्रवाई में पुलिस ने 12 पाव शराब, नगदी 460 रूपए और फर्नीचर जब्‍त किया गया है। कोतवाली टीआई सुमेर सिंह जगेत ने बताया कि ढाबा के संचालक अक्षय सेंगर को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ आबकारी एक्‍ट मे
27 दिसंबर को होना आमना-सामना

27 दिसंबर को होना आमना-सामना

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। शहर में चौपाल में शामिल होकर जनप्रतिनिधि जनता से उनकी बात सुनेंगे और अपनी बात कहेंगे। जिसमें हम अपने लोगों के बीच जाकर उनसे और उनकी समस्‍याओं से रूबरू होंगे। विधायक चौधरी चंद्रभान सिंह ने पत्रिका चौपाल को जनता से जन प्रतिनिधियों को जोड़ने का एक अच्‍छा प्रयास बताया। इस अभियान के तहत वार्ड 25 में शिविर आयोजित किया जा रहा है। 27 दिसंबर को सुबह 20.30 बजे से चौपाल कालीपाठा मंदिर के पास आयोजित होगा। इसमें विधायक चौधरी चंद्रभान सिंह, महापौर कांता सदारंग, निगम अध्‍यक्ष धर्मेन्‍द्र मिगलानी, नेता प्रतिपक्ष असगर वासू अली, पार्षद दीपा योगेश साबले, वार्ड के लोग मौजूद रहेंगे। विधायक जी का कहना है कि कार्यक्रम अच्‍छा है इसके माध्‍यम से हम जनता की बात सुनेंगे और अपनी बात कहेंगे। निधम अध्‍यक्ष धर्मेंद्र मिगलानी का कहना है कि अब तक जिन समस्‍याओं पर ध्‍यान नहीं दिया गया
स्‍कूल शिक्षा विभाग ने जारी किए निर्देश

स्‍कूल शिक्षा विभाग ने जारी किए निर्देश

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। स्‍कूलों में बच्‍चों को अब शारीरिक दंड देना अपराध माना जाएगा। शिकायत मिलने पर जिम्‍मेदार शिक्षकों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी। मप्र स्‍कूल शिक्षा विभाग ने इस संदर्भ में निर्देश जारी किए हैं। शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अतंर्गत बच्‍चों के अधिकारों से जुड़े प्रावधानों में एक महत्‍वपूर्ण प्रावधान बच्‍चे को शारीरिक दंड और मानसिक उत्‍पीड़न पर प्रतिबंध से संबंधित है। इस प्रावधान का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए समय-समय पर दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। फिर भी स्‍कूलों में बच्‍चों को शारीरिक दंड देने की बार-बार शिकायतें आने तथा छात्र-छात्राओं के अधिकारों का उल्‍लंघन होने के मामले  प्रकाश में आ रहे थे। मप्र शासन ने इन घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए उक्‍त प्रावधान का कड़ाई से पालन कराने के लिए कलेक्‍टर को निर्देश दिए हैं। प्रमुख सचिव दीप्ति गौड़ मुखर्जी
विधायक सहित 89 गिरफ्तार

विधायक सहित 89 गिरफ्तार

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
कॉलेज को बनाया अस्‍थाई जेल   छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। पेंच क्षेत्र की बंद विष्‍णुपुरी भूमिगत कोयला खदान नंबर 1 को चालू करने की मांग को लेकर 25 दिसंबर को इंटक संगठन के द्वारा बंद खदान के मोहरे में घुसकर आंदोलन करने का प्रयास किया गया। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल एवं पुलिस ने कार्यकर्ताओं को खदान के भीतर जाने से रोकने का प्रयास किया, इस बात पर विधायक एवं कार्यकर्ताओं के साथ धक्‍का मुक्‍की हुई। पेंच महाप्रबंधक सोहाग पांडया तथा एडीएम ने भी आंदोलकारियों से चर्चा की, लेकिन आंदोलकारी खदान के अंदर घुसकर अनशन करने पर अड़े रहे। इसके बाद शिवपुरी थाना प्रभारी निवेदिता सोनी एवं पुलिस बल ने आंदोलन का नेतृत्‍व कर रहे रीजनल इंटक अध्‍यक्ष एवं विधायक सोहन वाल्‍मीक सहित 89 कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया। सभी को दोपहर डेढ़ बजे पॉलीटेक्निक कॉलेज खिरसाडोह में बनाई गई अस्‍थाई जेल में रखा
निजी स्‍कूलों की तर्ज में शासकीय स्‍कूल

निजी स्‍कूलों की तर्ज में शासकीय स्‍कूल

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। निजी स्‍कूलों की तरह शासकीय स्‍कूलों का शैक्षणिक सत्र अप्रैल माह से शुरू करने की तैयारी हो गई है। इसके लिए शिक्षा विभाग शासकी स्‍कूलों में कक्षा नवमी-ग्‍यारहवी की वार्षिक परीक्षा फरवरी महा में शुरू कर रही है। इसके प‍हले तक कक्षा दसवी-बारहवी की बोर्ड परीक्षा के बाद ही कक्षा नवमी की परीक्षा या बीच सत्र में शुरू की जाती थी। इस वर्ष इन परीक्षाओं का समय बदलते हुए लोक शिक्षण संचालनालय ने कक्षा नवमी 11वीं की बोर्ड परीक्षा फरवरी माह में शुरू कर उत्‍तर पुस्तिकाओं का मूल्‍यांकन मार्च में पूरा कर हर हाल में 31 मार्च को परीक्षा परिणाम जारी करने के निर्देश दिए हैं। इसके ठीक दूसरे दिन यानि 1 अप्रैल से नया शिक्षा सत्र शुरू कर दिया जाएगा। अब तक शासकीय स्‍कूलों का शैक्षणिक सत्र जुलाई माह से शुरू होता था बीते वर्ष 16 जून से नया शिक्षा सत्र शुरू किया गया था। डीपीआई से आ
छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। जिला अस्‍पताल स्थित ब्‍लड बैंक के कर्मचारी कितनी मनमानी करते हैं इसका खुलासा 24 दिसंबर को देखने को मिला। यहां फीमेल सर्जिकल वार्ड में सिकलसेल से पीडि़त10 वर्षीय बालिका को अस्‍पताल के दो डॉक्‍टरों द्वारा फ्री ब्‍लड के लिए लिख दिया गया लेकिन इसके बाद भी ब्‍लड बैंक में कार्यरत कर्मचारियों ने मुफ्त ब्‍लड देने से मना कर दिया। अस्‍पताल में एक दिन पूर्व ही सिकलसेल पीडि़त दो वर्षीय बच्‍चे की खून की कमी से मौत हुई है। 23 दिसंबर की शाम पांढुर्ना विकासखंड के ग्राम उमरेठ से 10 वर्षीय बालिका कृति खरे को गंभीर अवस्‍था में भर्ती कराया गया है। कृति के शरीर में महज 4.01 ग्राम ब्‍लड बताया जा रहा है। बालिका के साथ उसकी मां है जो सुबह से ब्‍लड के लिए भटकती रही। जिला अस्‍पताल में पदस्‍थ डॉ जेएम श्रीवास्‍तव ने एवं बाद में डॉ. निर्णय पांडे द्वारा ब्‍लड फ्री देने लिख दिया था, ल