[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: SOURCE NEWS – Page 354 – News 4 India

Author: SOURCE NEWS

आधार कार्ड से पकड़े शिक्षक

आधार कार्ड से पकड़े शिक्षक

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। मानव संसाध विकास मंत्रालय ने आधार नंबर से देश के विभिन्‍न कॉलेजों और विश्‍वविद्यालयों में करीब 80 हजार ऐसे शिक्षकों की पहचान की है जिनका कोई वजूद ही नहीं है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने 5 जनवरी को यह जानकारी दी। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि इनमें से कोई भी शिक्षक किसी केंद्रीय विश्‍वविद्यालय से नहीं है। जावेडकर ने कहा कि कुछ ऐसे फर्जी शिक्षक है, जो गलत तरीके से उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं ये कई जगहों पर पूर्णकालिक शिक्षक हैं आधार शुरू होने के बाद ऐसे 80 हजार शिक्षकों की पहचान हुई है। इनके खिलाफ कार्रवाई पर विचार किया जाएगा। जावेड़कर ने कहा किसी केंद्रीय विश्‍वविद्यालय में फर्जी शिक्षकों की पहचान नहीं हुई है, लेकिन कुछ राज्‍य एवं निजी विश्‍वविद्यालयों में ऐसे शिक्षक हैं मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सभी विश्‍वविद्यालयों से
दुनियामे हलचल
वांशिगटन न्‍यूज 4 इंडिया। अमेरिका ने पाकिस्‍तान को दी जाने वाली 9,500 करोड़ रूपए की सैन्‍य सहायकता रोक दी है। अमेरिका ने कहा है कि पाकिस्‍तान जब तक आतंकी संगठनों अफगान तालिबान और हक्‍कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता, तब तक सुरक्षा मदद को पूरी तरह से रोका जा सकता है। अमेरिका विदेश विभाग की प्रवक्‍ता हीथर नॉर्ट ने 5 जनवरी को कहा हम पाकिस्‍तान को दी जाने वाली सुरक्षा सहायता को निलंबित कर रहे हैं अब पाकिस्‍तान को आर्थिक मदद तभी दी जाएगी, जब वह आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करेगा। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की नई रणनीति का जिक्रकरते हुए नॉर्ट ने कहा कि पाकिस्‍तान कई बार समझाइश के बावजूद तालिबान और हक्‍कानी नेटवर्क को सुरक्षित पनाहगाह बना हुआ है। ट्रंप ने नए साल के पहले ही दिन अपने ट्वीअ में पाकिस्‍तान को अमेरिकी मदद बंद करने की चेतावनी दी थी। ट्रंप ने पाकिस्‍तान को धोखे
महिला को आरोपी माना जाए या नहीं पीठ करेगी फैसला

महिला को आरोपी माना जाए या नहीं पीठ करेगी फैसला

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। पति के अलावा किसी अन्‍य पुरूष से संबंध बनाने वाली महिला को व्‍यभिचार का आरोपी माना जाए या नहीं, इस पर सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संविधान पीठ फैसला करेगी। व्‍यभिचार से जुड़ी158 साल पुरानी आईपीसी की धारा 497 को चुनौती देने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट ने संविधान पीठ को रेफर कर दी। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की बेंच ने कहा, ‘ संविधान ने महिला और पुरूष को बराबर अधिकार दिए  हैं तो आपराधिक मामलों में यह अलग क्‍यों है जब महिला और पुरूष की सहमति से अपराध हो रहा है तो महिला को संरक्षण क्‍यों दिया गया। सामाजिक प्रगति लैंगिक समानता और लैंगिक संवदेनशीलता को देखते हुए पिछले फैसलों पर दोबारा विचार करना चाहिए।’ साल 1954 और 1985 के फैसलों में अदालत ने माना था कि धारा 497 महिलाओं से भेदभाव नहीं करती। केरल के जोसफ साइन ने धारा 497 की संवैधानिक वैधता को चुनौती दे रखी है। उनके व
फर्जी लोकायुक्‍त के खातों की पड़ताल

फर्जी लोकायुक्‍त के खातों की पड़ताल

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। भोपाल लोकायुक्‍त के हत्‍थे चढ़े फर्जी लोकायुक्‍त निरीक्षक मामले में 5 जनवरी को भी जाचं जारी रही। लोकायुक्‍त ने आरोपी रामकुमार को कोर्ट में पेश किया। जहां से पांच दिन की रिमांड पर लिया है। शिकायतकर्ता ने सागर लोकायुक्‍त में तैनात सिपाहियों के नाम भी मामले में जोड़े हैं। लोकायुक्‍त निरीक्षक बनकर ठगी करने के आरोप में शहर की कौशलपुरी कॉलोनी निवासी रामकुकार विश्‍वकर्मा को लोकायुक्‍त भोपाल की टीम ने 4 जनवरी को उसके घर से छापामार कार्रवाई कर गिरफ्तार किया था। देहात थाना में रामकुमार से पूछताछ की गई। लोकायुक्‍त ने रामकुमार के सहयोगी मानस बादल के साथ आरोपी के कर्मचारी राजीव चौरसिया, कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर अंजू पटैरिया व संगीता झा से भी पूछताछ की। आरोपी और उसके परिजनों के बैंक खाते भी खंगाले हैं। वहीं शिकायतकर्ता विजय विश्‍वकर्मा ने रामकुमार द्वारा सागर लोकायुक्‍त में पदस्‍थ व
बैंकों में नहीं पहुंचे 200 और 50 रूपए के नोट

बैंकों में नहीं पहुंचे 200 और 50 रूपए के नोट

छत्तीसगढ़
रायपुर न्‍यूज 4 इंडिया। दो सौ और 50 के नए नोटों के लिए राजधानी के लोगों को अभी और इंतजार करना होगा। अगरस्‍त में लांच होने के चार महीने बाद भी शहर के किसी भी बैंक या बाजार में नए नोट नहीं मिल रहे हैं रिजर्व बैंक नागपुरसे नए नोटों की सप्‍लाई नहीं होने की वजह से नए साल में भी लोगों को नए नोट नहीं मिलेंगे। बैंक अफसरों का कहना है कि नए नोटों की छपाइ कम हुई है इसलिए अभी सप्‍लाई नहीं हो रही है इन नोटों की अभी सप्‍लाई बड़े शहरों में ही हो रही है। 200 और 50 के नए नोटों की शहर में जबर्दस्‍त डिमांड है। बैंक से रूपए निकालने वाले अधिकतर लोग नए नोटों की मांग करते हैं, लेकिन बैंक वालों का एक ही जवाब होता है कि उनके पास भी अभी तक नए नोट नहीं पहुंचे हैं।
कर सकेंगे तीन करोड़ खर्च

कर सकेंगे तीन करोड़ खर्च

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। लोक निर्माण विभाग ने अपने विभाग के चीफ इंजीनियरों के वित्‍तीय अधिकार बढ़ा दिए गए हैं अब वे तीन करोड़ रूपए तक सड़क की रिपेयरिंग पर खर्च कर सकेंगे। सरकार सांसद और विधायकों द्वारा की गई सड़कों की अनुशंसाओं पर काम तेजी से कराने के लिए ही वित्‍तीय अधिकारों को बढ़ाया गया है। फिलहाल चीफ इंजीनियरों को अपने स्‍तर पर सड़क सुधारने के लिए 20 लाख तक कार्यों की अनुमति देने का अधिकार था सरकार सड़कों का काम तेजी से कराने पर फोकस कर रही है। इसके लिए लोक निर्माण विभाग के बजट को बढ़ाने के साथ मुख्‍य अभियंता के वित्‍तीय अधिकारों को भी बढ़ाये गये हैं। तेज होगा सड़कों का विकास वित्‍तीय अधिकारों को बढ़ाने के पीछे मंशा यही है कि सड़कों के टेंडर की हर फाइल भोपाल आने से रोकी जा सके और सउ़कों के काम स्‍वीकृत कर तेजी से निर्माण कार्य कराए जा सकें। वर्क ऑर्डर से लेट होता है काम व
3 साल बाद भी नहीं लगे गुणवत्‍ता बताने वाले सिस्‍टम

3 साल बाद भी नहीं लगे गुणवत्‍ता बताने वाले सिस्‍टम

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। शहर में वाहनों से होने वाले वायु प्रदूषण के स्‍तर की जानकारी हर 30 से 60 मिनट के अंतराल में पता करने के लिए कंटीन्‍युअस एम्बिएंट एयर क्‍वालिटी मॉनीटरिंग सिस्‍टम तीन साल बाद भी नहीं लग सके हैं। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण मंडल और मप्र प्रदूषण नियंत्रण के बीच यह मामला पिछले तीन सालों से अटका हुआ है। इस बीच नेशनल ग्रीन ट्रित्‍यूनल भी पीसीबी को मॉनीटरिंग सिस्‍टम लगाने के लिए कह चुका है, लेकिन भोपाल शहर में इन्‍हें लगाने की कार्रवाई अब तक शुरू नहीं हो सकी है। अभी शहर में वायु प्रदूषण की जांच के लिए जो मशीनें सात स्‍थानों पर लगी हैं, उसके आंकड़े 24 घंटे में आते हैं। शहर में वाहनों की बढ़ी संख्‍या के साथ होने वाले प्रदूषण के स्‍तर की मॉनीटरिंग हर 30 से 60 मिनट के अंतराल करने के लिए कंटन्‍युअस एम्बिएंट एयर क्‍वालिटी मॉनीटरिंग सिस्‍टम लगाने की तैयारी वर्ष 2015 में शुरू हो ग
सरकार नहीं लाएगी अध्‍यादेश

सरकार नहीं लाएगी अध्‍यादेश

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। जिस तीन तलाक बिल को लोकसभा ने महज साढ़े चार घंटे में बहस में पारित कर दिया, राज्‍य सभा में उस पर सरकार तीन दिन में भी सहमति नहीं बनवा सकी। बिल में अपराध वाले प्रावधान का विरोध कर रहे 17 विपक्षी दल और एनडीए की घटक टीडीपी इसे सेलेक्‍ट कमेटी को भेजे जाने की मांग पर अड़ी रही। सत्र के अंतिम दिन भी यह विधेयक कार्य सूची में शामिल था, लेकिन इस पर कोई चर्चा नहीं हुई। 18 दलों के विरोध के तीन कारण 1 बिल को आपराधिक बनाने के खिलाफ। तर्क है कि विवाह के मामले फौजदारी अपराध नहीं हो सकते। दुनिया में कहीं भी तलाक देने पर पति को जेल भेजने प्रावधान नहीं है। 2 तीन तलाक देने पर पति को तीन साल की सजा का विरोध। दलों का कहना है कि यह बेहद कड़ा दंड है। दहेज विरोधी कानून की तरह इसका दुरूपयोग किया जा सकता है। 3 कांग्रेस का सवाल हे कि पति जेल जाएगा तो तलाक पीडि़ता को वह गुजा
डिवाइडर फांद रॉन्‍ग साइड घुसी बस, 4 बच्‍चों सहित ड्राइवर की मौत

डिवाइडर फांद रॉन्‍ग साइड घुसी बस, 4 बच्‍चों सहित ड्राइवर की मौत

मध्य प्रदेश
इंदौर न्‍यूज 4 इंडिया। इंदौर में देवास बायपास स्थित चिौली हप्‍सी ओवरब्रिज पर 5 जनवरी को दोपहर साढ़े तीन बजे डीपीएस की बस और ट्रक में टक्‍कर हो गई। इतनी जबरदस्‍त थी कि बस के अगले हिस्‍से की परखच्‍चे में 4 बच्‍चों और बस चालक की मौके पर ही मौत हो गई। 8 बच्‍चे घायल हुए, इनमें दो की हालत गंभीर है। बस का स्‍टीयरिंग फेल होने से हादसा हुआ। 5 जनवरी को स्‍कूल की छुट्टी के बाद बस 12 बच्‍चों को घर छोड़ने जा रही थी। बायपास पर स्‍टीयरिंग फेल होने से बस अनियंत्रित हो गई और डिवाइडर फांदते हुए सड़क के दूसरे साइड सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई। हादसे के बाद लोगों ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी। गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने हादसे की जाचं के आदेश दिए हैं। वहीं हादसे के बाद घायलों को बॉम्‍बे अस्‍पताल ले जाया गया है। वे लगातार माता-पिता को पुकार रहे थे। परिजन भी पहुंच गए, लेकिन पुलिस परिजनों को बच्‍चों स
मददगार की तलाश में नागपुर पहुंची पुलिस

मददगार की तलाश में नागपुर पहुंची पुलिस

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। इकलाख हत्‍याकांड के षड़यत्र रचने वाले आरोपियों की पनाह देने के मामले में बने अपराधी की तलाश में कोतवाली पुलिस 4 जनवरी को नागपुर पहुंची थी। कोतवाली थाने में इंद्रानगर निवासी बॉबी ऊर्फ भूपेंद्र माखन के खिलाफ धारा 212 के तहत अपराध दर्ज है। इकलाख की हत्‍या के बाद से फरार रिक्‍की खंडूजा, नरेंद्र और सुरेंद्र को बॉबी ऊर्फ भूपेंद्र माखने ने नागपुर में छुपने में मदद की थी। टीआई सुमरे जगत सिंह जगेत ने बताया कि इस इमरान नगर में रहने वाले बॉबी की तलाश में टीम पहुंची थी, लेकिन आरोपी नहीं मिल सका। आरोपीके घर पर टीम ने कोर्ट का नोटिस चस्‍पा कर दिया है। 30 जनवरी तक आरोपी न्‍यायालयमें पेश नहीं होता है तो उसकी संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी। 4 अगस्‍त को दोपहर न्‍यायालय परिसर में इकलाख कुरैशी को गोलीमार कर हत्‍या कर दी गई थी हत्‍याकांड का षड़यंत्र रचने वाले नरेंद्