[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: छत्तीसगढ़ – Page 4 – News 4 India

छत्तीसगढ़

परीक्षा में नकल करते पकड़े गए चार DSP

परीक्षा में नकल करते पकड़े गए चार DSP

छत्तीसगढ़
रायपुर   न्‍यूज 4 इंडिया। छत्तीसगढ़ में पुलिस विभाग की विभागीय परीक्षा के दौरान चार डीएसपी नकल करते पकड़े गए हैं, इनमें से तीन महिला परीक्षार्थी हैं। मिली जानकारी के मुताबिक चंद्रखुरी पुलिस एकेडमी में चार डीएसपी 3 july को नकल करते पकड़े गए हैं। पुलिस मुख्यालय के परीक्षा निरीक्षक ने ट्रेनिंग की बाद लिखित परीक्षा में उन्हें चिट से नकल करते पकड़ा। पुलिस के सूत्रों के अनुसार 2016 बैच के डीएसपी स्तर के अधिकारियों की अकादमी में ट्रेनिंग चल रही है। फर्स्ट फेज की लिखित परीक्षा में यह प्रकरण सामने आया। मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस मुख्यालय में तैनात एडिशनल एसपी पूजा अग्रवाल और डीएसपी चंदन सिंह नेताम को परीक्षा नियंत्रक बनाया गया था। इन दोनों परीक्षा नियंत्रकों ने डीएसपी कल्पना वर्मा, आशा कुमारी सेन, योग्यता साहू और अभिषेक पैकरा को उत्तर पुस्तिका के नीचे चिट रखकर नकल करते पकड़ा। इनमें से एक
सरकारी ब्लॅड बैंक से निजी अस्पतालों के मरीज ले सकते हैं ब्लड

सरकारी ब्लॅड बैंक से निजी अस्पतालों के मरीज ले सकते हैं ब्लड

छत्तीसगढ़
रायपुर  न्‍यूज 4 इंडिया। राज्य के 24 सरकारी अस्पतालों में ब्लड बैंक की सुविधा उपलब्ध है। वहां से निजी अस्पताल में भर्ती मरीजों को भी ब्लड दिया जा सकता है। इस संबंध में सरकार ने फरवरी 2016 से ही आदेश जारी कर रखा है। स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर ने बताया कि सरकारी ब्लॅड बैंकों के लिए दर तय है, इसका वायलेसन (उल्लंघन) नहीं होना चाहिए। विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान निर्दलीय विधायक डॉ. विमल चोपड़ा के सवाल के जवाब में मंत्री चंद्राकर ने बताया कि अब तक 14252 यूनिट ब्लड निजी अस्पतालों के मरीजों को दिया गया है। डॉ. चोपड़ा ने कहा कि महासमुंद समेत कई जिलों में सरकारी ब्लॅड बैंक से निजी अस्पतालों के मरीजों को ब्लड नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने पूछा कि आदेश का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाएगी। इस पर मंत्री ने कहा कि सरकार ने आदेश दे रखा है, उसका परिपालन भी सुनिश्चित किया ज
नक्सलियों ने अपहरण कर पीटा

नक्सलियों ने अपहरण कर पीटा

छत्तीसगढ़
कांकेर न्‍यूज 4 इंडिया। कोयलीबेड़ा थाना इलाके के ग्राम पानीडोबिर निवासी युवक हरिराम मोड़गू की नक्सलियों ने घर से अपहरण कर बेरहमी से पिटाई कर दी। दरअसल नक्सलियों को यह शक था कि हरिराम पुलिस के लिये मुखबिरी करता है और ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने का लालच देकर नक्सलियों के खिलाफ बरगला रहा है। पीड़ित हरिराम ने तीन जुलाई को अपनी रिपोर्ट में बताया कि 24 जून की रात 9 बजे वह अपने घर में खाना खाकर सोया हुआ था। इसी दौरान दर्जनभर से ज्यादा हथियारबंद नक्सली उनके घर में आ धमके। नक्सली राजू सलाम, मीना नेताम, भानू नेताम, सुखराम मरकाम सहित अन्य कई नक्सली व संगम सदस्यों को देखकर मैं डर गया और भागने की कोशिश की। लेकिन नक्सलियों ने मुझे पकड़कर ले गए और कुछ दिनों तक बंधक बनाकर रखे। इस दौरान उन्हें लगा कि मैं पुलिस की मुखबिरी नहीं करता, जिसके बाद मुझे गांव के बाहर आलपरस जाने वाले मार्ग पर ले
ठेकेदार की हत्या कर, विरोध में दोरनापाल बंद

ठेकेदार की हत्या कर, विरोध में दोरनापाल बंद

छत्तीसगढ़
सुकमा न्‍यूज 4 इंडिया। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित क्षेत्र सुकमा में सड़क निर्माण से जुड़े एक ठेकेदार की नक्सलियों ने सोमवार देर रात हत्या कर शव सड़क पर फेंक दिया। अगले दिन मंगलवार सुबह जब लोग निकले तो उन्हें हत्या का पता चला। ठेकेदार किसी से मिलने के लिए अंदरूनी गांव में गए हुए थे। आशंका है कि नक्सलियों ने वहीं से उनका अपहरण किया। ठेकेदार की हत्या के विरोध में व्यापारियों और आम लोगों ने दोरनापाल बंद का आह्वान किया है। - जानकारी के मुताबिक, मूल रूप से उत्तर प्रदेश के अकबरपुर निवासी कपूरचंद राजपूत लंबे समय से दोरनापाल में रह रहे थे। वो यहीं से सड़क निर्माण की ठेकेदारी करते थे। सोमवार रात अचानक से वो गायब हो गए और सुबह उनका शव गोरूंदा के नजदीक जगरगुंडा रोड पर पड़ा हुआ मिला। - ठेकेदार कपूरचंद के चेहरे पर काले रंग का कपड़ा बांधा गया था। ऐसे में अंदेशा है कि कपूरचंद शोर न मचा सकें, इसके चलते
15 साल से मुद्दे नहीं खोज पाई  फिर भी अविश्वास प्रस्ताव

15 साल से मुद्दे नहीं खोज पाई फिर भी अविश्वास प्रस्ताव

छत्तीसगढ़
रायपुर न्‍यूज 4 इंडिया।  भाजपा विधायक दल सदन में विपक्ष के हमलों का मुंहतोड़ जवाब देगा। खासकर कांग्रेस विधायक दल द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के एक-एक बिंदू को लेकर जोरदार पलटवार किया जाएगा। चतुर्थ विधानसभा के अंतिम सत्र में भाजपा विधायक आक्रामक होंगे। सीएम हाउस में 2 july रात को मुख्यमंत्री डॉ.  की अध्यक्षता में भाजपा विधायकों व संगठनों के नेताओं की बैठक में ये फैसला किया गया है। बैठक में सभी मंत्री और विधायक शामिल हुए। इसके अलावा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक व महामंत्री संगठन पवन साय भी मौजूद थे। संसदीय कार्यमंत्री अजय चंद्राकर ने बैठक की शुरूआत की। भाजपा संगठन महामंत्री पवन साय ने संगठनात्मक कार्यक्रमों की जानकारी दी। भ्रम फैलाने का काम करती है कांग्रेस :मुख्यमंत्री ने बैठक में कांग्रेस को पूरे समय निशाने पर रखा। एक ओर तो उन्होंने भाजपा विधायकों की जमकर तारीफ की तो का
कांग्रेस के सदस्यों की सदस्यता समाप्त करने को लेकर सदन में हंगामा

कांग्रेस के सदस्यों की सदस्यता समाप्त करने को लेकर सदन में हंगामा

छत्तीसगढ़
  रायपुर न्‍यूज 4 इंडिया। जोगी कांग्रेस में जाने वाले तीन विधायकों की सदस्यता खत्म करने को लेकर नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव की स्पीकर को लिखे पत्र के मामले में मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ। तीन विधायक अमित जोगी, आर के राय और सियाराम कौशिक कांग्रेस का दामन छोड़कर जोगी कांग्रेस में शामिल हुए थे। वहीं रेणु जोगी को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नहीं बुलाए जाने के मामले में भी पक्ष और विपक्ष की तीखी बहस हुई। इन सब हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही 5 मिनट के लिए स्थगित करनी पड़ी। - शून्यकाल में बीजेपी के वरिष्ठ विधायक शिवरतन शर्मा ने मामले को उठाते हुए कहा कि ये स्थिति स्पष्ट होनी चाहिए कि किन कारणों से सदस्यों की सदस्यता खत्म करने के लिए नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंहदेव ने पत्र लिखा है। - इस पर संसदीय कार्यमंत्री अजय चंद्राकर ने शिवरतन शर्मा का समर्थन करते हुए
ऑक्सी रीडिंग जोन की शुरुआत, एक हजार छात्र कर सकेंगे पढ़ाई

ऑक्सी रीडिंग जोन की शुरुआत, एक हजार छात्र कर सकेंगे पढ़ाई

छत्तीसगढ़
रायपुर  न्‍यूज 4 इंडिया। नालंदा विश्वविद्यालय के नाम पर राजधानी में खोला गया विश्व स्तरीय ऑक्सी रीडिंग जोन 1 julyको छात्रों के लिए खोल दिया गया। छात्र यहां प्रकृति की गोद में बैठकर खुले आसमान के नीचे तो वहीं वातानुकूलित कमरे में भी बैठकर पढ़ाई कर सकेंगे। यहां पर एक साथ तकरीबन एक हजार छात्र पढ़ाई कर सकते हैं ऑक्सी रीडिंग जोन की दीवारों में हीट रजिस्टेंस ग्लास और थर्मल इंसुलेशन युक्त छत का निर्माण किया गया है। यहां पर छात्रों को ई-लाइब्रेरी, वाईफाई जोन और मल्टीमीडिया क्लास रूम बनाया गया है। रविवार को ऑक्सी रीडिंग जोन में पढ़ाई करने के लिए चार सौ छात्रों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है, जिसमें कुल 248 छात्र पढ़ाई करने पहुंचे थे। छात्रों के लिए तीन रेस्टोरेंट, स्टेशनरी, एटीएम, कम्प्यूटर और मोबाइल की दुकान खोली जाएगी। गौरतलब है कि साढ़े छह एकड़ में 19 करोड़ की लागत से बने ऑक्सी रीडिंग जोन में छात्र
छत्तीसगढ़
रायपुर   न्‍यूज 4 इंडिया। चूना पत्थर की लगभग 150 से अधिक बंद खदानों को पाटा नहीं जा सका है। जिले के अभनपुर, नया रायपुर के इलाकों में चूना पत्थर की सैकड़ों खदानें आज भी संचालित हैं, लेकिन बंद खदानों को नियमत: पाटा जाना था, ताकि भूमि को समतल कर वहां पौधरोपण आदि किया जा सके। पर हैरतवाली बात है कि खनिज विभाग पूर्व के खननकर्ताओं को बंद खदानों को पाटने के लिए एक भी नोटिस नहीं भेज सका। इसे छोड़िए, राजधानी के संतोषी नगर में तीन ऐसी खदानें हैं, जिन्हें बंद हुए 20 से 30 साल हो चुके हैं। इसके बावजूद इसे पाटने के लिए न तो कभी नगर निगम ने पहल की और न ही खनिज विभाग के अधिकारी। हालात ये है कि शहर की इन खदानों में हर साल कोई न कोई डूब कर अपनी जान गंवाते हैं। इसके पत्थर की चमकीली परतों के चलते इसमें सालभर पानी भरा रहता है। यही कारण है कि युवक और छोटे बच्चे आते हैं। नहाने या अचानक चहलकदमी से पैर फिसलने
सत्र के पहले दिन रिंकू खनूजा की मौत पर हुआ हंगामा

सत्र के पहले दिन रिंकू खनूजा की मौत पर हुआ हंगामा

छत्तीसगढ़
रायपुर न्‍यूज 4 इंडिया। विधानसभा में मानसून सत्र का पहला दिन हंगामेदार रहा। विपक्ष ने विधानसभा में रिंकू खनूजा की मौत मामले में जमकर हंगामा किया। कांग्रेस ने खनूजा की मौत को सुनियोजित राजनीतिक षड्यंत्र बताते हुए स्थगन पेश कर चर्चा की मांग की, लेकिन आसंदी ने विपक्ष के स्थगन प्रस्ताव को खारिज कर दिया। इसके बाद विपक्ष ने हंगामा किया और नारेबाजी करते हुए रिंकू खनूजा की मौत मामले में जांच कराए जाने की मांग की। विपक्ष के हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी गई। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कहा कि रिंकू खनूजा की पत्नी ने एसपी को पत्र लिखा है जिसमें कहा गया है कि यह आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है और इस आत्महत्या मामले में छत्तीसगढ़ पुलिस की भूमिका बेहद संदिग्ध है। बघेल ने कहा कि अब तक इस मामले में पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पेश नहीं की है। प्रदेश में कानून व्यवस्था प
प्रदेश में पहला लीवर ट्रांसप्लांट

प्रदेश में पहला लीवर ट्रांसप्लांट

छत्तीसगढ़
रायपुर न्‍यूज 4 इंडिया।  राजधानी के एक निजी अस्पताल के डॉक्टरों ने लीवर ट्रांसप्लांट कर इतिहास रच दिया। 40 डॉक्टरों की टीम ने 20 घंटे तक मैराथन सर्जरी कर 45 वर्षीय रमेश (बदला हुआ नाम) को नया जीवन दिया। रमेश को लीवर डोनेट करने वाला कोई और नहीं, बल्कि उनकी पत्नी माया (बदला हुआ नाम) है। उन्होंने अपने पति को मौत के मुंह से खींच लिया। यह ट्रांसप्लांट इसलिए ज्यादा चुनौतीभरा था, क्योंकि रमेश ने एक ही किडनी के साथ जन्म (कन्जनाइटल सोलिट्री) लिया था। छत्तीसगढ़ आर्म्स फोर्स 10वीं बटालियन में हेड कांस्टेबल रमेश की जांच श्रीबालाजी सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल मोवा में हुई तो लीवर खराब होने का पता चला। ट्रांसप्लांट ही एकमात्र विकल्प था। रमेश के परिजन ट्रांसप्लांट के लिए राजी हुए तो सवाल था कि लीवर कौन देगा, पत्नी माया आगे आईं। हॉस्पिटल संचालक डॉ. देवेंद्र नायक ने बताया कि इसमें हैदराबाद के डॉ. बाला च