मुख्य समाचार

देश की अर्थव्‍यवस्था को पंख लगा सकता है ‘मेक इन इंडिया’ कैंपेन

देश की अर्थव्‍यवस्था को पंख लगा सकता है ‘मेक इन इंडिया’ कैंपेन

मुख्य समाचार
देश की अर्थव्‍यवस्था को पंख लगा सकता है ‘मेक इन इंडिया’ कैंपेन भारत की तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यवस्था में ‘मेक इन इंडिया’ कैंपेन का भी बहुत बड़ा योगदान है। कई अर्थशास्त्री इस बात को स्वीकार करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी अभियान ‘मेक इन इंडिया’ को शुरू हुए दो साल हो गए हैं। पिछले दो सालों में इस अभियान का दायरा लगातार बढ़ता रहा है। सरकार ने सितंबर 2014 में ‘मेक इन इंडिया’ पहल की शुरुआत की थी, ताकि रक्षा, खाद्य प्रसंस्करण समेत 25 क्षेत्रों में विनिर्माण को बढ़ावा दिया जा सके। मोदी सरकार के इस अभियान को पिछले दो साल के दौरान बहुत अच्छा रिस्पॉन्स मिला है। सरकार ने बीते दो साल में ऐसे कई कदम उठाए हैं जिसने कॉरपोरेट सेक्टर में सरकारी सिस्टम के प्रति भरोसा कायम किया है। फिर वह चाहे प्रस्तावों की मंजूरी में लगने वाले समय में कमी की बात हो या फिर पर्यावरणीय स्वीकृतियां प्र
लखनऊ एनकाउंटर को लेकर शुरू हुई सियासी बयानबाजी

लखनऊ एनकाउंटर को लेकर शुरू हुई सियासी बयानबाजी

मुख्य समाचार
नई दिल्ली9/03/17। लखनऊ के ठाकुरगंज इलाके में एटीएस के साथ मुठभेड़ में मारे गए आतंकी सैफुल्ला को लेकर सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। इस मामले को लेकर कांग्रेसी नेताओं ने सवाल उठाए हैं। कांग्रेसी नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा कि सैफुल्ला का जब तक आईएस से कनेक्शन साबित नहीं हो जाता, उसका इनकाउंटर नहीं किया जाना चाहिए था। कांग्रेसी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सरकार आतंकवाद पर लगाम लगाने में नाकाम रही और देश आईएस का गढ़ बन गया। असद्दउद्दीन औवेसी ने कहा कि देश में हिंसा की कोई जगह नहीं होनी चाहिए। युवाओं को जम्हूरित में आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि उस बच्चे के पिता ने तो मान लिया है कि सैफुल्ला आतंकी था और उसका शव लेने से इंकार कर दिया। मगर, अजमेर ब्लास्ट के मामले में क्या आरएसएस कभी मानेगा कि उसके लोग गलत काम कर रहे थे। उधर, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ एनकाउंटर के ला
कोल्ड ड्रिंक बंद करने का निर्णय लेने

कोल्ड ड्रिंक बंद करने का निर्णय लेने

मुख्य समाचार
जबलपुर, भोपाल समेत 300 रेलवे स्टेशनों पर नहीं बिकेंगी कोल्ड ड्रिंक्स भोपाल समेत 300 स्टेशनों पर अब कोल्ड ड्रिंक नहीं बेची जा सकेगी। लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री द्वारा कोल्ड ड्रिंक में जहरीले तत्व मिले होने की जानकारी देने के बाद पश्चिम मध्य रेलवे (पमरे) जोन के कमर्शियल विभाग ने यह निर्णय लिया है। कोल्ड ड्रिंक बंद करने का निर्णय लेने वाला प.म.रे. देश का पहला रेलवे जोन बन गया है। इस आदेश के जारी होने के बाद पश्चिम मध्य रेलवे के तीन रेल मंडल जबलपुर, भोपाल, कोटा के अंतर्गत आने वाले तकरीबन 300 स्टेशनों पर कोल्ड ड्रिंक की ब्रिकी पर रोक लगा दी गई है। स्टेशनों पर मिल्क और हेल्थ ड्रिंक (फ्रूट जूस) की बिक्री पर जोर दिया गया है। इसके बाद इस साल 5 हेल्थ ड्रिंक कंपनियों को प्रोडक्ट बेचने की अनुमति दी गई है। इनमें दो मिल्क प्रोडक्ट को भी शामिल किया गया है।
व्यापम घोटाले के बाद अब कटनी हवाला काण्ड में भी शुरू हुई संदिग्ध मौतें

व्यापम घोटाले के बाद अब कटनी हवाला काण्ड में भी शुरू हुई संदिग्ध मौतें

मुख्य समाचार
भोपाल - मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार के कार्यकाल में किसी भी घोटाले के दाग मिटाने के लिये हत्या आत्महत्या जैसी वारदातें शुरू हो जाती हैं ! ताजा मामला कटनी हवाला काण्ड से जुड़ा हुआ है जिसमे मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खासमखास मंत्री संजय पाठक और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष नन्द कुमार सिंह के बेटे का नाम सामने आया था मामले को उजागर करने वाले एस पी गौरव तिवारी का रातोरात तबादला कर दिया गया था जिसको रुकवाने कटनी की जनता सड़कों पर उतरी थी लेकिन राज्य सरकार ने पोस्टिंग के 6 महीने के भीतर ही हुए दूसरे तबादले को भी रूटीन ट्रांसफर बता दिया ! घोटालों की चादर जैसे ही खुलती है सौम्य चेहरे वाले मुख्यमंत्री सख्त होते दिखने लगते हैं ! घोटालों के आरोप लगने या कुछ मनमाफिक न होने पर शिवराज का चेहरा एक प्रशिक्षत कलाकार की मुद्रा जैसा हो जाता है । ऐसे दो वाकये याद आ रहे हैं जब व्यापम घोटाले की सी बी आ