[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: छिंदवाड़ा अप्डेट्स | News 4 India - Part 59

छिंदवाड़ा अप्डेट्स

4 दुर्घटना में 2 की मौत 10 घायल 

4 दुर्घटना में 2 की मौत 10 घायल 

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। जिले के बिछुआ और अमरवाड़ा में 15 जनवरी को रात तक चार अलग-अलग दुर्घटनाएं एवं हादसे हुए। दो लोगों की मौत हो गई। दस लोग गंभीर हालत में हैं। जिनका अस्‍पताल में इलाज जारी है। पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर मामले को जांच में रखा है। खमारपानी और घाटकामठा के बीच घाट पर यात्रियों से भरी एक बस अनियंत्रित होकर सागौन के पेड़ से टकरा गई। बस में 20 लोग सवार थे पांच लोगों को गंभीर चोट आई हैं बिछुआ पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर 2 बजे वाहन क्रमांक एमपी 28ए1993 खमारपानी की ओर आ रहा था वाहन का टायर फटा जिससे वह अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गया। घायलों में शारदा पिता जानबा उइके, सज्‍जनलाल पिता बालकराम, कल्‍पना पिता लक्ष्‍मण, उमा पति महेश को गंभीर चोट आईं। वाहन चालक रामदास नौरे की भी हालत गंभीर बताई जा रही है। बिछुआ से करीब 13 किमी दूर स्थित ग्राम बंधान पाथरी बंजारी आश्र
शहर में पहली बार 

शहर में पहली बार 

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। मप्र फुटबॉल संघ के निर्देश पर जिला फुटबॉल संघ द्वारा राष्‍ट्रीय स्‍तर की प्रतियोगिता में मप्र सीनियर महिला फुटबॉल दल का चयन एवं प्रशिक्षण शिविर16 से 24 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद मप्र दल उड़ीसा के लिए प्रस्‍थान करेगी। ओलम्पिक स्‍टेडियम पर प्रदेश के विभिन्‍न जिले के चयनित खिलाड़ी प्रशिक्षण शिविर में भाग लेंगे। यह पहला अवसर है जब जिला संघ को प्रदेश फुटबॉल टीम के चयन का दायित्‍व दिया गया है।
छोटी सी रकम के लिए कर दी पत्नी की हत्या

छोटी सी रकम के लिए कर दी पत्नी की हत्या

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। कोयलांचल के दीघावानी में छोटी से रकम के लिए पति ने पत्‍नी की हत्‍या कर दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची शिवपुरी थाना पुलिस की टीम ने आरोपी पति को हिरासत में ले लिया। हत्‍या का अपराध पंजीबद्ध किया। आरोपी को 15 जनवरी को न्‍यायालय में पेश किया गया। पुलिस की पूछताछ में हत्‍या की वजह एक बोरी कोयला बीनने के बाद मिले रूपए हैं। दीघावनी में कोयला बीनने के पैसे को लेकर हुए विवाद के कारण पति ने पत्‍नी की हत्‍या कर दी। पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर लिया है। 14 जनवरी की सुबह 9बजे पति राधेश्‍यम यदुवंशी एवं पत्‍नीसीता में विवाद हुआ। राधेश्‍याम ने बसेले से हमला कर दिया। सीता को गंभीर हालत में जिला अस्‍पताल पहुंचाया। इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई। शिवपुरी थाना प्रभारी निवेदिता सोनी ने बताया कि मृतिका चरईकलां की रहने वाली थी चार वर्ष पूर्व दीघावानी में उसका विवाह हुआ था जिसक
वह तो चोरनी निकली

वह तो चोरनी निकली

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। शहर के पुराना छापाखाना स्थित साहू ज्‍वेलर्स से सोने और चांदी के जेवरात चुराने वाली ज्‍वेलस्र की महिला कर्मचारी को कोतवाली पुलिस ने 14 जनवरी को हिरासत में लिया। चोरी के जेवरात जब्‍त कर दोपहर बाद न्‍यायालय में पेश किया, यहाँ से उसे न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया। महिला की निशानदेही पर पुलिस ने 1 लाख 77 हजार रूपए के आभूषण बरामद किए हैं।कोतवाली टीआई सुमेर सिंह जगेत ने बताया कि साहू ज्‍वेलर्स में काम करने वालीनया बैल बाजार निवासी महिला के खिलाफ प्रसन्‍न कुमार साहू की रिपोर्टपर चोरी का अपराध पंजीबद्ध किया गया। महिलाने दुकान से चार नग सोने के हार, एक जोड़ी पायल और तीन चांदी के सिक्‍के चुराए थे। वारदात सीसीटीवी में कैद हुई थी। फुटेज के आधार पर गिरफ्तार किया गया। चोरी किए सोने एवं चांदी के आभूषण जिनका बाजार मूल्‍य 1लाख 77 हजार रूपए हैं बरामद किए गए। महिला आरोपीको
हत्या की और लूटा भी

हत्या की और लूटा भी

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। योजनाबद्ध तरीके से चार दोस्‍तों ने मिलकर युवा व्‍यवसायी को मौत के घाट उतारा। मृतक की जेब से एटीएम कार्ड निकाला और उसका उपयोग नागपुर के एटीएम बूथ पर किया। खाते से नगदी रूपए निकाले और वहाँ से फरार हो गए। रूपए के लेनदेने का भी मामला सामने आया है। पुलिस की एक टीम इन बिन्‍दुओं की तस्‍दीक करने 15 जनवरी को नागपुर रवाना होगी। मामला लोधीखेड़ा थाना क्षेत्र का है। छिन्‍दवाड़ा निवासी शिवा त्रिपाठी आदित्‍य सराठे, संदीप विश्‍वकर्मा एवं अरविंद उइके के खिलाफ हत्‍या का अपराध पंजीबद्ध है सभी आरोपी 16 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर हैं पुलिस की पूछताछ और छानबीन के साथ मृतक के परिजन ने आरोपियों पर मृतक के एटीएम से रूपए निकालने का आरोप लगाया है। इसके अलावा व्‍यवसाय के लिए रूपए के लेनदेन की बात भी सामने आई है एटीएम मशीन से फुटेज जुटाने के साथ ही अन्‍य बिंदुओं की जाचं के लिए 15 जनवरी क
अभी भी नहीं छूटा मोह और कई लगे हैं कतार में

अभी भी नहीं छूटा मोह और कई लगे हैं कतार में

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। जिले से वर्षों पहले ट्रांसफर होकर चले जाने के बाद भी कुछ अधिकारियों का यहां के शासकीय आवासों पर कब्‍जा है ऐसे भी अधिकारी हैं जिनके पास दो आवास हैं जबकि महकमे में ऐसे कई अधिकारी और कर्मचारी हैं जो लंबे समय से शासकीय आवास के लिए कतारमें खड़े हैं। विभागीय अधिकारियों की लापरवाही कहें या फिर मेहरबानी जो आवास खानी नहीं करा पा रहे हैं। उमरेठ थाना में पदस्‍थ रहे एक सब इंस्‍पेक्‍टर का करीब तीन वर्ष पहले प्रमोशन हुआ और वे यहां से चले गए। फिलहाल अधिकारी का शासकीयआवास पर कब्‍जा बना हुआ है सामान खानी नहीं किया और उसमें ताला भी लटका हुआ है इसके अलावा एक अन्‍य एएसआई भी हैं जिसने स्‍थानांतरण होने के बाद भी शासकीय आवास खानी नहीं किया। यह हालत पुलिस लाइन के शासकीय आवासों की है क्‍वार्टर अलाट करने के लिए विभाग के अधिकारी छोटे कर्मचारियों को नियम और कानून का पाठ पढ़ा रहे है
अब खुद लीजिए मीटर की रीडिंग और….

अब खुद लीजिए मीटर की रीडिंग और….

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। मध्‍यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अंतर्गत आने वाले 25 शहरों के बिजली उपभोक्‍ताओं को उनके मीटर की फोटो रीडिंग स्‍मार्ट बिजली एप पर अपलोड करने की सुविधा प्रारंभ कर दी गई है इनमें छिन्‍दवाड़ा भी शामिल है। उपभोक्‍ता द्वारा अपलोड की गई रीडिंग के आधार पर बिजली बिल जारी किया जाएगा। उपभोक्‍ता यदि अपनी ईमेल आईडी पर बिजली बिल प्राप्‍त करना चाहते हैं तो उनकी सहमति पर यह सुविधा भी उपलब्‍ध कराई जा रही है। कंपनी द्वारा वर्तमान में जिन शहरों में यह सुविधा प्रारंभ की गई है उनमें सिहोरा, कटनी, मंडला, मैहर, सतना, रीवा, शहडोल, धनपुरी, सीधी, सिंगरौली, नरसिंहपुर, गाडरवाड़ा, परासिया, छिन्‍दवाड़ा, पांढुर्ना, सिवनी, बालाघाट, मजालखंड, सागर बीना, खुरई, टीकमगढ़, छतरपुर, पन्‍ना और नौगांव शामिल हैं। इन शहरों के बिजली उपभोक्‍ता अपने मोबाइल से मीटर की फोटो लेकर स्‍मा
नेटवर्क के कारण देना होगा 250 रोज

नेटवर्क के कारण देना होगा 250 रोज

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। जीएसटी के लिए रिटर्न जमा करने वाले कारोबारी एवं कर सलाहकारों के लिए जीएसटीएन नेटवर्क परेशानी बनता जा रहा है। जीएसटीआर-1 के लिए 10 जनवरी आखिरी तारीख थी, लेकिन नेटवर्क और सर्वर डाउन की समस्‍या ने खासा परेशान किया। जीएसटीआर-1 रिटर्न दाखिल करने की तिथि बढ़ाकर 31 दिसंबर से 10 जनवरी कर दी गई थी। इस अवधि में भी ज्‍यादातर कारो‍बारियों का रिटर्न दाखिल नहीं हो सका है। जिन व्‍यापारियों ने जुलाई से नवंबर तक के लिए जीएसटीआर-1 फाइल नहीं किए हैं उन पर पांच माह के रिटर्न की 50 रूपए प्रति रिटर्न के हिसाब से 250 रूपए रोज की लेट फीस लगेगी। जीएसटीआर-3बी रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 20 जनवरी है व्‍यापारियों को ध्‍यान रखना होगा कि जिन व्‍यापारियों के जीएसटीआर-1 देरी से फाइल हो रहे हैं उस लेट फीस फाइलिंग की फीस का भुगतान किए बिना जीएसटीआर-3बी फाइल ही नहीं कर सकेंगे।
झूठी वाहवाही का हथकंडा

झूठी वाहवाही का हथकंडा

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया।  कांग्रेस का आरोप है कि जिस तरह मुख्‍यमंत्री ने 9 साल पहले संभाग की झूठी घोषणाएं की थी इसी तरह उद्यानिकी कॉलेज भी झूठी वाहवाही लूटने का हथकंडा है। प्रदेश के किसान आत्‍महत्‍याएं कर रहे हैं लेकिन प्रदेश के मुखिया की सभा में पंडाल पर दो करोड़ और किसानों को सभा में लाने के लिए 20 लाख रूपए खर्च कर दिए1 जिला कांग्रेस अध्‍यक्ष रामप्रसाद तिवारी ने यह आरोप लगाया है। श्री तिवारी ने कहा है कि भावांतर योजना किसानों के साथा धोखा है। कांग्रेस शासनकाल में किसानों का अनाज समर्थन मूल्‍य पर खरीदा जाता था लेकिन इस योजना से किसानोंको प्रति क्विंटल महज 200 से 250 का भुगतान हो रहा है पिछले चुनावों में ही मुख्‍यमंत्री ने जिले को संभाग बनाने और पांढुर्ना को जिला बनाने की घोषणा की थी जिस पर आज तक अमल नहीं हो पाया है अब भाजपा जवाब दे कि ये घोषणा भी संभाग की तरह झूठी तो साबित नहीं हो
मदहोश प्रशासन होश में आया

मदहोश प्रशासन होश में आया

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया।  इंदौर में बस हादसे के बाद परिवहन विभाग कुंभकर्णी नींद से जागा तथा स्‍कूल बसों की जांच का विशेष अभियान पूरे प्रदेश में छेड़ दिया, लेकिन इस हादसे के बाद स्‍कूल प्रबंधन सबक लेने को तैयार नहीं है। परिवहन विभाग द्वारा शहर के स्‍कूलों में जो जांच अभियान चलाया जा रहा हैउस दौरान स्‍कूल बसों में कई खामियां देखेने को मिल रही हैं। स्‍कूल बसों की फिटनेस पर सवाल खड़े हो रहे हैं। 13 जनवरी को परिवहन अमले ने जय गुरूदेव इंटरनेशनल स्‍कूल की दो बस को अनफिट पाते हुए जब्‍त किया। इन बसों में अग्निशमन यंत्रतो थे जो एक्‍सपायर हो चुके थे, एक बस की फ्लोर जर्जर हो चुकी थी, एक बस के चालक के पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं था बस का फर्स्‍टएड बॉक्‍स खाली था अमले ने दोनों बसों को अनफिट पाते हुए जब्‍त कर आरटीओ कार्यालय में खड़ा करवाया है।