Tag: दुष्कर्म का अंजाम

दुष्कर्म का अंजाम

दुष्कर्म का अंजाम

छत्तीसगढ़
डिंडौरी न्यूज 4 इंडिया। जिले के मेहंदवानी थाना क्षेत्र के गुंझियार गांव में ढाई साल पहले ग्यारह साल की एक लड़की को दुष्कर्म के बाद मार डालने के मामले में 3 नवंबर को दो व्यक्तियों को फांसी की सजा सुनाई है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश भागवती चौधरी ने मामले को क्रूरतम मानते हुए यह सजा सुनाई। डिंडौरी में इस तरह का अब तक का यह पहला निर्णय है। फांसी की सजा पाने वाले अभियुक्त सतीश (30) पिता जेहर सिंह धूमकेती और भगवानी सिंह (25) पिता जवाहर सिंह मरकाम है। उन्होंने 14 और 15 अप्रैल 2015 को गुंझियारी में लड़की के साथ दुष्कर्म किया और बाद में उसकी हत्या कर दी थी। दोनों ने गिरफ्तारी के बाद अपना गुनाह कबूल कर लिया था। ट्रायल में भी गुनाह साबित हुआ। उनके खिलाफ धारा 376 क, 376 (1), 376 (घ),  376 (2) क, 302, 201, 346, 364 और बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 की धारा 4, 6 के तहत मामला चल रहा था। इनमें न्याया