हनी ट्रैप मामला समाज में बढ़ती संवेदनहीनता का सूचक

हनी ट्रैप मामला, समाज में बढ़ती संवेदनहीनता का सूचक सारिका श्रीवास्तव एक स्वच्छ और विकसित समाज राष्ट्रीय विकास का सूचक है। स्वच्छ एवं श्रेष्ठ मानसिकता जिसमें उत्तम चरित्र समाहित हो ,भारतीय दर्शन का प्रतीक है ।परंतु, आज भारतीय अध्यात्म, दर्शन और चिंतन के लुप्त होने के स्पष्ट संकेत दिख रहे हैं। मैं बात कर रही हूं ,हनी ट्रैप मामले की। समाज की तमाम बड़ी शख्सियत इन मामले में ऐसे संलग्न है। जैसे कोई गलत काम है ही नहीं। यह एक आश्चर्य की विषय बिंदु है। विज्ञान और समाज आज इतनी…

Read More

15 August2019

यू तो, स्वाधीनता प्रकृति के समस्त जीव धारियों को जान से भी प्यारी होती है ।इस तथ्य को शायद हमसे बेहतर कोई ना समझ सके, क्योंकि लाखों शहीदों की शहादत और कुर्बानी के फल स्वरुप भारत में 15 अगस्त 1947 को बमुश्किल स्वाधीनता हासिल की। हमें फिर आगे संविधान मिला, मौलिक अधिकार मिले, और मौलिक कर्तव्य भी। पर हमने सतत रूप से अपने अधिकारों का दावा तो किया , पर कर्तव्य विस्मित ही रखे।हमारी संचेतना जितनी कर्तव्य के निर्वहन के प्रति सजग होना चाहिए , ना रह सकी । जिसका,…

Read More

जीवन को मिलेगा नया आयाम

यंही है वो शांति की मनहारी सुंगध … जिसकी तलाश हर आत्मा और मष्तिष्क को होती है … करना है एक लघु यज्ञ…. जिसमें होगी समझौते की लकड़ियां, , भावनाओं की आहुतियां… ख्वाहिशों की घी से धधक उठेगी अग्नि … उस पर धीरज और संयम के गंगा जल के आचमन से होगी शांति …. यही होगी वो मनुहारि सुंगंध… जिसकी होती है तलाश हर आत्मा और मष्तिष्क को…. यही से मिलेगी अंतःकरण को शांति , …..यही देगा जीवन को नए आयाम … सारिका श्रीवास्तव Share on: WhatsApp

Read More

कुछ तूफान उसके अंदर कुछ तूफान मेरे अंदर

कुछ तूफान उसके अंदर था, कुछ तूफान मेरे अंदर था, दोनों ही अंदर ही अंदर लड़ रहे थे इन तूफानों से , मैं सोच रहा था उठते इस तूफान को बदल दूं ठंडी हवा के झोंकों में , उधर उसके तूफान लगे थे तबाही मचाने में कौन जाने किसका तूफान तेज था ? मेरी अंतरात्मा ने दी मुझे आवाज कहा , तुझे तो विरासत में मिली है सहेजने और संभालने की अदा तू अपना फर्ज निभा उसकी तूफान को अपनी तूफान से मिटा तो क्या हुआ उसके अंदर नफरत का…

Read More

स्त्री की पुकार…..मेरी अभिव्यक्ति

रे स्त्री…. कोई नहीं सुनने वाला तेरी करुण पुकार…… जग ये बहरा हो गया है …? कोई नहीं कहने वाला तेरे हक की बात …. जग ये गूंगा हो गया है …? रे स्त्री अब सुन ले मेरी बात .. तुझको क्या करना है….? ना तू जन बेटी को ….. अस्मत लूटी जाएगी .. कब तक तू उसको मर्यादा और संस्कारों का पाठ पढ़ाइएगी….. ना जन तू बेटो को भी । जो तेरे ही किसी प्रतिरूप को तार-तार कर देता है जग ये बहरा हो गया है कौन सुनेगा तेरी…

Read More

पुलिस में एफ आई आर कराना आसान भी और कठिन भी जाने क्या है वास्तविकता

click to see vedio यहां करें क्लिक और जाने एफ आई आर की पूरी प्रक्रिया जो आपके और आपके किसी अपने के लिए जरूरत काम आएगी जानना आप की जवाबदारी और कर्तव्य दोनों हीclick click click here ज्यादातर लोग एफ आई आर की प्रक्रिया को नहीं समझते हैं ।और थाने में की गई सामान्य शिकायत को ही एफ आई आर मानकर वापस आ जाते हैं ।परंतु वास्तविकता अलग है, जानने के लिए और एफ आई आर को लेकर आमजन में जागरूकता के लिए न्यूज़ 4इंडिया ने यह वीडियो खास आपके…

Read More

पुलिस को की गई सामान्य शिकायत, नहीं होती एफ आई आर

एफ आई आर का आशय प्रथम सूचना रिपोर्ट या एफआईआर (First Information Report या FIR) एक लिखित प्रपत्र (डॉक्युमेन्ट) है परंतु इसे पुलिस को दिए जाने वाला सामान्य शिकायती आवेदन नहीं माना जा सकता है वास्तव में एफ आई आर वह है जो भारत, पाकिस्तान, एवं जापान आदि की पुलिस द्वारा किसी संज्ञेय अपराध(cognizable offence) की सूचना प्राप्त होने पर तैयार किया जाता है। यह सूचना प्रायः अपराध के शिकार व्यक्ति द्वारा पुलिस के पास एक शिकायत के रूप में दर्ज की जाती है। कुछ मामलों में एफ आई आर अनुसंधानकर्ता पुलिस अधिकारी भी दर्ज कर…

Read More

सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 मध्य प्रदेश के लिए खास

अध्याय 1 प्रारम्भिक संक्षिप्त नाम, विस्तार और प्रारम्भ-(1) इस अधिनियम का संक्षिप्त नाम सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 है। (2) इसका विस्तार जम्मू-कश्मीर राज्य के सिवाय सम्पूर्ण भारत पर है। (3) धारा 4 की उपधारा (1), धारा 5 की उपधारा (1) और उपधारा (2), धारा 12, धारा 13, धारा 15, धारा 16, धारा 24, धारा 27 और धारा 28 के उपबंध तुरन्त प्रभावी होंगे और इस अधिनियम के शेष उपबंध इसके अधिनियम के एक सौ बीसवें दिन को प्रवृत्त होंगे। परिभाषाएं- इस अधिनियम में, जब तक कि संदर्भ से अन्यथा…

Read More

हम अहंकारी नहीं स्वाभिमानी बने

भगवान के छोटे राजकुमार मानव ने आत्म-विश्वास रूपी अस्त्र ले इस धरती पर पदार्पण किया। जीवन-संग्राम में कठिन से कठिन कार्य भी आत्म-विश्वास के सहारे बड़ी सुगमता के साथ सफल हो जाते हैं। आत्म-विश्वास के प्रकाश में सम्पूर्ण उलझनपूर्ण समस्याओं का निदान खोजा जा सकता है। विश्व के सभी महान दार्शनिकों एवं विद्वानों ने आत्म-विश्वास की महत्ता का बखान एक स्वर से किया है। भक्त कवि गोस्वामी तुलसीदास ने भवानी और शंकर के रूप में श्रद्धा और विश्वास को देखा। महात्मा टॉलस्टाय ने विश्वास को जीवन की शक्ति कहा तो…

Read More

विधायक ने पुलिस कर्मी पर अभद्रता का आरोप

प्रतापगढ़ः अपने रवैये के चलते चर्चा में रहने वाले कंधई थाने के थानाध्यक्ष संजय शर्मा एक बार फिर सुर्खियों में हैं। दरअसल, प्रतापगढ़ सदर विधायक संगम लाल गुप्ता ने थानाध्यक्ष संजय शर्मा पर अभद्रता करने का आरोप लगाया है। विधायक ने एक वीडियो जारी करके कहा है कि थानाध्यक्ष ने शराब पीकर ना सिर्फ उनके साथ अभद्रता की। बल्कि योगी सरकार के ऊपर भी गंभीर और आपत्तिजनक टिप्पणी की। विधायक ने इसकी शिकायत डीजीपी और एसपी से भी की है। फिलहाल आरोपी थानाध्यक्ष को लाइन हाजिर कर दिया गया है।…

Read More