विश्‍व कप में मिलना चाहिए टीम इंडिया में जगह

भारतीय चयनकर्ता आईपीएल के फॉर्म को ध्‍यान रखते हुए 15 अप्रैल को 2019 विश्‍व कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर सकते हैं। मुंबई में टीम इंडिया के विश्‍व कप स्‍क्‍वाड की घोषणा होगी।

एमएसके प्रसाद की अध्‍यक्षता वाली चयन समिति इस बात पर अड़ी है कि जब 15 अप्रैल को विश्‍व कप के लिए टीम इंडिया चुनी जाएगी तो उसमें आईपीएल के फॉर्म को महत्‍व नहीं दिया जाएगा। हालांकि, पूर्व भारतीय कप्‍तान सुनील गावस्‍कर का मानना है कि चयनकर्ताओं को जोर देकर आईपीएल का प्रदर्शन ध्‍यान रखना होगा ताकि फैसला कर सके कि मौजूदा फॉर्म के आधार पर किसका चयन किया जाए।

टीम इंडिया ने विश्‍व कप से पहले अपना आखिरी वन-डे 13 मार्च को खेला था। ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ इस मुकाबले में रिषभ पंत, अंबाती रायुडू और केएल राहुल रन नहीं बना पाए थे। गावस्‍कर का मानना है कि जब चयनकर्ता मुंबई में 15 अप्रैल को बैठक करेंगे तो उन्‍हें खिलाडि़यों के मौजूदा आईपीएल फॉर्म को ध्‍यान रखना होगा।

बता दें कि टीम इंडिया में चौथे नंबर की जिम्‍मेदारी केएल राहुल को सौंपी जा सकती है, जिन्‍होंने मौजूदा आईपीएल में अब तक बेहतरीन प्रदर्शन किया है। राहुल ने किंग्‍स इलेवन पंजाब की तरफ से खेलते हुए अब तक तीन अर्धशतक और एक शतक जमाया है। गावस्‍कर को लगता है कि विश्‍व कप टीम में जगह पाने के राहुल मजबूत दावेदार हैं।

इंडिया टुडे से बातचीत में गावस्‍कर ने कहा, ‘चार नंबर पर कौन बल्‍लेबाजी करेगा, यह चर्चा का विषय है। इस जगह आईपीएल फॉर्म पर ध्‍यान दिया जा सकता है क्‍योंकि यह मौजूदा समय की बात है। सीजन की शुरुआत में अंबाती रायुडू की बात हो रही थी, लेकिन उनका फॉर्म बुरी तरह लड़खड़ा गया और ऐसे में नंबर-4 के लिए राहुल उपयुक्‍त हैं।’

राहुल के बारे में बात करते हुए गावस्‍कर ने कहा, ‘वह पहले भी नंबर-4 पर बल्‍लेबाजी कर चुका है। मगर कुछ कारणों से वह पिछले साल उलझन में रहा। मगर हमने उसे आईपीएल में ध्‍यान लगाकर बल्‍लेबाजी करते हुए देखा है। मुझे नहीं लगता कि किसी ओपनर को मिडिल ऑर्डर में बल्‍लेबाजी करने में कोई मुश्किल होगी।’ राहुल ने 14 वन-डे में 343 रन बनाए हैं। उनकी औसत 34 की रही। आधे मैचों में राहुल ने ओपनिंग की और इसके अलावा तीसरे, चौथे व पांचवें क्रम पर भी बल्‍लेबाजी की।

अगर राहुल मिडिल ओवर्स में बल्‍लेबाजी करने का दम रखेंगे तो उन्‍हें विश्‍व कप की प्‍लेइंग इलेवन में मौका मिल सकता है। गावस्‍कर ने राहुल से काफी उम्‍मीद जताई है। उन्‍होंने कहा, कर्नाटक के बल्‍लेबाज को विराट कोहली और चेतेश्‍वर पुजारा जैसे निरंतर बेहतर प्रदर्शन करना होगा क्‍योंकि उनमें आक्रामक और डिफेंसिव दोनों तरह खेलने की क्षमता है। हम सभी को उनकी प्रतिभा पता है, लेकिन पिछले चार सालों में जब उनसे उम्‍मीद की तो उन्‍होंने हर बार अच्‍छा स्‍कोर नहीं बनाया। मगर जिस तरह वह आईपीएल में बल्‍लेबाजी कर रहे हैं, उसे देखकर लगता है कि वह नंबर-4 पर बल्‍लेबाजी कर सकता है।’

अगर चयनकर्ताओं की बात करें तो वह राहुल को वैकल्पिक ओपनर के रूप में देखते आए हैं। रायुडू को नंबर-4 के लिए सही विकल्‍प माना गया है। विजय शंकर को भी चौथे क्रम की जिम्‍मेदारी सौंपी जा सकती है। गावस्‍कर ने कहा, ‘विजय शंकर आपको बल्‍लेबाजी के साथ गेंदबाजी में भी विकल्‍प देगा। वह भले ही 10 ओवर न करे, लेकिन तीन से चार अच्‍छे ओवर कर सकता है। मगर जहां तक उनकी बल्‍लेबाजी की बात है तो मुझे एक चीज अच्‍छी नहीं लगी कि वो मैच खत्‍म करके नहीं आते।’

Related posts

Leave a Comment