जब भरी बैठक में कोई शीर्ष अधिकारी गुस्से में अपना ही वेतन रोकने के निर्देश दे तो बैठक में कुछ देर के लिये सन्नाटा छा जाता है. ऐसा ही कुछ हुआ है जबलपुर में. दरअसल मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से आई शिकायतों का निराकरण न होने पर गुस्से में आकर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने खुद के साथ अपने कई मातहतों का वेतन रोकने के निर्देश दे दिए. कलेक्टर शर्मा ने फेसबुक पर अपने आधिकारिक पेज पर इसकी जानकारी भी सार्वजनिक कर दी.

जबलपुर के कलेक्टर ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, "सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों में आशानुकूल निराकरण न होने पर कलेक्टर ने स्वयं के वेतन के साथ अधिकारियों का रोका इस माह का वेतन, जब तक निराकरण में तेजी न आये रुका रहेगा वेतन."

न्यूज़ सोर्स : कलेक्टर ने दिए अपनी ही सैलरी रोकने के निर्देश, जानिए क्या है पूरा मामला