14 से 22 दिसंबर को ढाका में होने वाली इस चैंपियनशिप में भारत का पहला मुकाबला 14 दिसंबर को होगा जबकि पाकिस्तान से भिड़ंत 17 दिसंबर को होगी।एशियाई चैंपियंस ट्राफी के लिए हॉकी टीम की कमान मनप्रीत सिंह को सौंपी गई है। हॉकी इंडिया की ओर से चयनित 20 सदस्यीय टीम में टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली टीम के सात सदस्य ही शामिल किए गए हैं। गोलकीपर पीआर श्रीजेश समेत 11 सदस्य शामिल नहीं किए गए हैं।

इनमें रूपिंदर पाल सिंह और बीरेंद्र लाकड़ा संन्यास ले चुके हैं। 14 से 22 दिसंबर को ढाका में होने वाली इस चैंपियनशिप में भारत का पहला मुकाबला 14 दिसंबर को होगा जबकि पाकिस्तान से भिड़ंत 17 दिसंबर को होगी।मस्कट (ओमान) में हुई पिछली एशियाई चैंपियंस ट्राफी में भारत और पाकिस्तान संयुक्त विजेता रहे थे। बरसात के चलते तब फाइनल नहीं हो सका था। इस बार टूर्नामेंट में कोरिया, पाकिस्तान, बांग्लादेश, जापान, मलेशिया टीमें खेल रही हैं।

टोक्यो में कांस्य जीतने वाली टीम के श्रीजेश, सुरेंदर कुमार, अमित रोहिदास, नीलकांत, गुरजंत सिंह, मंदीप सिंह, सिमरनजीत सिंह और विवेक सागर प्रसाद ढाका जाने वाली टीम में शामिल नहीं है। बताया जाता है कि श्रीजेश को आराम दिया गया है, जबकि विवेक जूनियर विश्व कप में भारतीय टीम की कमान संभाल रहे हैं।

भारतीय टीम के चीफ कोच ग्राहम रीड का कहना है कि टीम का चयन भविष्य की योजनाओं को ध्यान में रखकर किया गया है। टीम युवा और अनुभव का मिश्रण है और उनके पास अपनी प्रतिभा को दिखाने का बड़ा मौका है।

20 सदस्यों में 18 के दल से एकादश का चयन किया जाएगा। यह एक विश्वस्तरीय टूर्नामेंट है। सभी टीमों के पास अगले ओलंपिक के लिए जरूरी कंपटीशन को पाने का बेहतरीन मौका होगा।