कोलकाता । पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अगले सप्ताह गोवा के दो दिवसीय दौरे पर जाएंगी। तृणमूल कांग्रेस के नेता ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। गोवा में अगले साल की शुरुआत में चुनाव होने है। उन्होंने कहा, ‘‘अपनी उत्तर बंगाल यात्रा से लौटने के बाद, तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख 28 अक्टूबर को दो दिवसीय यात्रा पर गोवा के लिए रवाना होंगी। वह गोवा में पार्टी नेताओं के साथ बैठक करेंगी। हालांकि, उनके यात्रा कार्यक्रम को अभी अंतिम रूप नहीं दिया गया है।तृणमूल कांग्रेस, इस साल की शुरुआत में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में अपनी शानदार जीत के बाद, राष्ट्रीय स्तर पर अपना दायरा बढ़ाने की कोशिश कर रही है।इसके लिए टीएमसी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित गोवा और त्रिपुरा में पैठ बनाने में लगी है।
तृणमूल कांग्रेस के अन्य नेता ने कहा, ‘‘ममता दी शायद किसी गठबंधन के लिए छोटे दलों के कुछ नेताओं से मिलें, लेकिन वह उन्हें हमारी पार्टी में शामिल होने के लिए आमंत्रित भी कर सकती हैं।’’ भाजपा और कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई ने बनर्जी की यात्रा को लेकर कटाक्ष कर उनकी यात्रा को ‘‘तटीय राज्य (गोवा) के राजनीतिक पर्यटन’’ के रूप में बताया। भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के प्रवक्ता शमिक भट्टाचार्य ने कहा, ‘‘गोवा का मौसम अब पर्यटकों के लिए उपयुक्त है। वह वहां छुट्टियां मनाने जा रही हैं।वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अब्दुल मन्नान ने कहा कि उनकी यात्रा का कोई नतीजा नहीं निकलेगा और इसका उद्देश्य गोवा में ‘उनकी सहयोगी भाजपा’ की मदद करना है। उन्होंने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस लगातार कांग्रेस पर हमला कर रही है और हमारे नेताओं को निशाना बना रही है। तृणमूल कांग्रेस के राजनीतिक रुख का उद्देश्य भाजपा की मदद करना है। वे गोवा में भी वही काम करने की योजना बना रहे हैं।