सियोल । उत्तर कोरिया ने शनिवार को बाइडन प्रशासन पर आरोप लगाया कि वह ताइवान का समर्थन करके चीन के साथ बेवजह सैन्य तनाव बढ़ा रहा है। उत्तर कोरिया ने कहा कि क्षेत्र में अमेरिका की बढ़ती सैन्य उपस्थिति उत्तर कोरिया के लिए संभावित खतरा उत्पन्न कर रही है। उत्तर कोरिया के उप विदेश मंत्री पाक म्यांग हो ने ताइवान जलडमरूमध्य में युद्धपोत भेजने और ताइवान को आधुनिक हथियार प्रणाली एवं सैन्य प्रशिक्षण देने के लिए अमेरिका की आलोचना की है।
उत्तर कोरिया के उप विदेश मंत्री पाक म्यांग हो ने कहा कि ताइवान से संबंधित मुद्दे चीन के आंतरिक मामले हैं, उनमें अमेरिका के अविवेकपूर्ण हस्तक्षेप से कोरियाई प्रायद्वीप में शांति भंग होने की संभावना बढ़ गई है। पाक के बयान से एक दिन पहले राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा था कि चीन से हमले का खतरा होने पर अमेरिका ताइवान की रक्षा के लिए कृतसंकल्पित है।
एशिया प्रशांत क्षेत्र में, प्योंगयांग के प्रमुख सहयोगी और आर्थिक मददगार चीन के साथ बढ़ती प्रतिस्पर्धा के बीच अमेरिका के क्षेत्र में व्यापक सुरक्षा भूमिका में आने की उत्तर कोरिया आलोचना करता रहा है। बाइडन प्रशासन द्वारा पिछले माह ऑस्ट्रेलिया को परमाणु हथियार सम्पन्न पनडुब्बियां देने के फैसले के बाद उत्तर कोरिया ने जवाबी कदम उठाने की धमकी दी थी।