भोपाल ,खंडवा । कांग्रेस के वरिष्ठतम नेता व पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने रविवार को खंडवा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में पंधाना के सिंगोट, नेपानगर जिला बुरहानपुर और मांधाता विधानसभा के हाथिया बाबा पर कांग्रेस प्रत्याशी राजनारायण सिंह पुरनी के समर्थन में आमसभा को संबोधित किया और भाजपा पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि जिस तरह बिगड़ेल बैल पर नकेल नहीं डाली जाती है तो वह बेलगाम हो जाता है, उसी तरह भाजपा पर नकेल नहीं डाली गई तो महंगाई और शोषण से मुक्ति नहीं मिलेगी और यह बेलगाम लोग महंगाई, पेट्रोल-डीजल, किसानों की खाद के अनियंत्रित दाम बढ़ाकर गरीबों को लूटते हुए पूंजीपति मित्रों का खजाना भरते रहेंगे।
उन्होंने कहा कि बाबा साहब आंबेडकर ने हमें संविधान बनाकर दिया, बड़े-बड़े जमीदारों की जमीन लेकर गरीब, आदिवासी, दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों को कांग्रेस ने दी। इस वर्ग के यदि उंचे-उंचे पदों पर लोग काबिज है तो वह बाबा साहब की वजह से। बाबा साहब के ही विचारों के कारण श्रीमती सोनिया गांधी के निर्देश पर देश में वनाधिकार कानून बना। जिसके तहत 2005 तक जिसका जहां कब्जा था वहां उसे मालिक बना दिया गया। मुझे मालूम पडा कि आज खंडवा व बुरहानपुर जिले में उनके घर जलाये जा रहे हैं, यह हम बर्दाश्त नहीं करेंगे। भूमिहीनों को कब्जे दिये जाना उनका अधिकार है, कांग्रेस ने उन्हे दिया और आगे भी सरकार बनने पर देंगे।
उन्होंने कहा कि बढ़ती हुई महंगाई से नुकसान किसे हो रहा है, आम गरीब को! मोदी और शाह गरीबों से टैक्स वसूल कर बड़े-बड़े उद्योगपतियों पर करोड़ों अरबों रूपयों की छूट देकर उनके लिए काम कर रहे हैं। मैं दावे के साथ कहता हूं कि यदि केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल की ड्यूटी यूपीए सरकार के दौरान जो थी वह लागू कर दे तो पेट्रोल में 22 रूपए और डीजल में 28 रूपए प्रति लीटर की कमी हो जाएगी। गरीबों के हितों की चिंता करने वाली सरकार इस वर्ग के लिए कितना चिंतित है, इस बात से ही पता लग सकता है कि प्रधानमंत्री के लिए दिल्ली में 11 हजार करोड़ और उपराष्ट्रपति के लिए 8 हजार करोड़ का महल बनाया जा रहा है।
दिग्विजयसिंह ने कहा कि भाजपा के लोग जब भी आते हैं लोगों को ठगने के लिए आते है। हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख डाले जाएंगे,   कालाधन लौटकर आएंगा, किसान की आय दोगुनी होगी, क्या हुई? यदि चुनाव नहीं हो तो इनके मंत्री गांव-गांव में भटकते दिखाई भी नहीं देंगे। आज मैं स्वर्गीय नंदकुमारसिंह चौहान को याद करता हूं हमारे राजनैतिक मतभेद रहें होंगे किंतु वे एक नेक व अच्छे इंसान थे। मेरे उनसे बहुत अच्छे संबंध रहे हैं। जब राजनारायण सिंह विधायक थे, नंदू भैया सांसद थे, हरसूद डूब में आ रहा था तब मैंने मीटिंग बुलाई, नंदू भैया से पूछा क्या-क्या करना है, उन्होंने मुझसे एक सप्ताह का समय मांगा, एक सप्ताह बाद जब मुझसे मिलने आये और कहा कि आप मकान, जमीन, पेड और कुओं का इतना-इतना मुआवजा दे दे और  यदि आपने इस सूची को मान लिया तो मैं सार्वजनिक मंच से आपके पैर छूंउंगा। पुरनी की ही एक आम सभा में जब मैंने उनके कथन को याद दिलाया तो उन्होंने सार्वजनिक तौर पर मेरे पैर भी छूएं, वे आज हमारे बीच नहीं है इसका मुझे दुख है। दिग्विजयसिंह ने कहा कि मालवा निमाड़ के विकास के लिए स्व. सुभाष यादव का भी जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने इस क्षेत्र को कई महत्वपूर्ण सौगातें दी जिसे भुलाया नहीं जा सकता है। हम चाहते थे कि अरूण यादव यहां से फिर चुनाव लड़े, पारिवारिक कारणों से उन्होंने असमर्थता जाहिर की फिर कमलनाथजी ने राजनारायण सिंह को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है। राजनारायण सिंहजी को जहां अडा तो वहां डटकर मैदान पकड़ लेते है, मेरी आपसे गुजारिश है कि 30 अक्टूबर को भाजपा पर नकेल डालने के लिए इन्हे वोट देकर मजबूत करें।
सभा में कांग्रस प्रत्याशी राजनारायण सिंह, पूर्व मंत्री प्रियव्रत सिंह, विधायक विपिन वानखेडे, वीरेंद्र मिश्रा, भगवान पटेल, जिला कांग्रेस अध्यक्ष ओंकार पटेल, ठाकुर नरेंद्रसिंह, ठाकुर गजेंद्रसिंह, ठाकुर सुरेंद्र सिंह, राणा सज्जनसिंह, हरेराम मंडल, छाया मौरे, जिला कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक पटेल आदि मौजूद थे।