नई दिल्ली| आईपीएल 2021 तेजी से प्लेऑफ की तरफ बढ़ रहा है। सभी टीमों ने अपने-अपने कोटे के 10-10 मुकाबले खेल लिए हैं और इसी के साथ अब प्लेऑफ में पहुंचने की जंग भी तेज हो गई है। अब लीग स्टेज के कुछ ही मुकाबले बाकी हैं और ऐसे में सभी टीमें अपनी तरफ से पूरी ताकत लगा रही हैं। बुधवार को दुबई में खेला गया आईपीएल का 43वां मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और राजस्थान रॉयल्स के बीच हुआ। इस मुकाबले में विराट की अगुवाई वाली आरसीबी ने संजू की रॉयल्स को एकतरफा मुकाबले में सात विकेट से हरा दिया। बैंगलोर की जीत के साथ ही अंक तालिका का गणित और दिलचस्प हो गया है।अंक तालिका में चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स की टीम 16-16 अंकों के साथ क्रमशः पहले और दूसरे स्थान पर बनी हुई हैं। ऐसे में दोनों के प्लेऑफ में पहुंचने की दावेदारी सबसे मजबूत है। दोनों टीमें एक और मुकाबला जीतते ही नॉकआउट स्टेज में पहुंच जाएंगी। धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपर किंग्स ने अभी तक 10 में से आठ मुकाबले जीते हैं और +1.069 की रन रेट के साथ शीर्ष पर काबिज है। दूसरे चरण में चेन्नई अभी तक एक भी मैच नहीं हारी है। बता करें दिल्ली की तो उसने 11 में से आठ मैच में जीत दर्ज की है और उसके +0.562 रन रेट हैं।अंक तालिका में तीसरे स्थान पर अभी भी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम मौजूद है। बैंगलोर ने 11 में से सात मुकाबले जीते है। वह -0.200 रन रेट और 14 अंकों के साथ फ़िलहाल तीसरे पायदान पर है। यहां प्लेऑफ के लिए आरसीबी की दावेदारी भी मजबूत है। चौथे और पांचवें स्थान पर कोलकाता नाइटराइडर्स और पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस काबिज है। दोनों के ही 11 मैच के बाद 10-10 अंक हैं लेकिन 0.363 की मजबूत रन रेट के साथ केकेआर चौथे स्थान पर है जबकि मुंबई की टीम -0.453 की रन रेट के साथ पांचवें पायदान पर है। फिलहाल चौथे स्थान के लिए मुंबई और कोलकाता में ही टक्कर है।इनके अलावा छठे, सातवें और अंतिम पायदान पर पंजाब किंग्स, राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम है। पंजाब और राजस्थान दोनों के आठ-आठ अंक हैं लेकिन पंजाब की रनरेट थोड़ी बेहतर है। इन दोनों टीमों के पास प्लेऑफ में पहुंचने की थोड़ी सी ही उम्मीद है लेकिन उसके लिए दोनों को अपने आखिरी तीनों मुकाबले बड़े अंतर से जीतने होंगे। वहीं सनराइजर्स की टीम 10 में से दो मुकाबले ही जीत पाई है और चार अंकों के साथ अंतिम पायदान पर है और उसके अब प्लेऑफ में पहुंचने के सभी रास्ते बंद हो चुके हैं, लेकिन वह अभी भी दूसरी टीमों का खेल बिगाड़ सकती है।