होशंगाबाद रोड स्थित होटल नंदन पैलेस के बाहर महिला डाक्टर आभा जिंदल की आंख में मिर्च झोंककर गले से सोने का हार लूटने वाला लुटेरा डांसर निकला। वह शादी-पार्टी में डांस कर रैकी करता था। हीरो की तरह दिखने के लिए उसके शौक भी बड़े हैं। वह हर डेढ़-दो माह में मुंबई जाकर 3000 रुपए में कटिंग कराता है। मिसरोद इलाके में लूट करने के बाद भी वह होशंगाबाद से मुंबई भाग निकला था। चार दिन बाद भोपाल आने पर पुलिस की टीम ने उसे बंगरसिया के पास से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने लूट के अलावा पांच चोरी और तीन वाहन चोरी की वारदातें कबूल की है। अफसरों ने उस पर 30 हजार रुपए ईनाम घोषित किया था। एएसपी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि ग्रीन मिराज कालोनी, अरेरा हिल्स में रहने वाली डाक्टर आभा जिंदल (60) पति डा. सुशील जिंदल स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं। उनका एमपी नगर में क्लीनिक है। गत दो दिसंबर को डाक्टर दंपति मिसरोद स्थित होटल नंदन पैलेस में एक शादी समारोह में शामिल होने गए थे। रात साढ़े दस बजे महिला डाक्टर पैलेस के बाहर मुख्य सड़क पर खड़ी थी, उनके पति पार्किंग से कार निकाल रहे थे। तभी बाइक सवार दो लुटेरों ने महिला की आंख में मिर्च झोंककर गले से दो लाख रुपए कीमती सोने का हार छीनकर फरार हो गए थे। आरोपी मंडीदीप की ओर भागे थे। इस मामले में पुलिस की तीन टीमें लगीं थीं। पुलिस ने होशंगाबाद तक के 250 सीसीटीवी कैमरे खंगाले। 47 पुराने आदतन लुटेरों को फुटेज दिखाए। इसके बाद आरोपी की पहचान हुई।

पुलिस पूछताछ में आरोपी अंकित ने खुलासा किया कि पिछले तीन माह ने उसने अपने साथी आदेश उर्फ अंकित सिसोदिया, नागेश डोगरे, कृष्णा गिरी के साथ चोरी एवं नकबजनी की तीन वारदात मिसरोद, एक बागसेवनिया और एक शाहपुरा में की है। मूलत: बैतूल निवासी अंकित गुजरे उर्फ अंकित डांसर वर्तमान में मंडीदीप में रहता है। शादी-पार्टी में डांस में शामिल होकर रैकी करता और वारदात को अंजाम देता था। चोरी के मामले में पुलिस ने आदेश उर्फ अंकित सिसोदिया और नागेश डोगरे को भी गिरफ्तार कर लिया है। जबकि शिवम उर्फ शुभम सोनी और कृष्णा गिरी की तलाश जारी है।

मुंबई से वापस लौटते ही दबोचा

लुटेरे की पहचान अंकित गुजरे (22) पिता बाबू गुजरे के रूप में होने के बाद पुलिस ने मोबाइल लोकेशन ट्रेस कर एक टीम को उसके पीछे लगा दिया। आरोपी होशंगाबाद से ट्रेन पकड़कर मुंबई भाग गया था। इधर, पुलिस उसके बारे में जानकारी जुटा रही थी। चार दिन बाद जैसे ही आरोपी मुंबई से वापस लौटा, तभी पुलिस ने उसे दबोच लिया। पूछताछ में अंकित ने बताया कि उसने साथी शिवम उर्फ शुभम सोनी के साथ सोने का हार लूटा था। पुलिस ने घटना में उपयोग लाई बाइक और सोने का हार बरामद कर लिया।