वैश्विक बाजारों में सकारात्मक रुख और एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, कोटक बैंक और इंफोसिस के शेयरों में तेजी के साथ सेंसेक्स में गुरुवार को शुरुआती कारोबार में 250 अंक से अधिक की तेजी आई लेकिन शाम को बाजार बंद होते वक् काफुर हो गई। सेंसेक् फिर 336 अंक की बड़ी गिरावट के साथ 60,923 पर बंद हुआ। बैंकिंग के अलावा सभी शेयरों की निवेशकों ने जमकर पिटाई की। Asian Paint सबसे ज्यादा 5 फीसद के करीब गिरा। Infosys, RIL का भी बुरा हाल था।

उधर, Nifty 50 ने भी उम्मीदों पर पानी फेरा और यह भी 0.51 प्रतिशत की तेजी बरकरार नहीं रख सका। NSE का मेन इंडेक् 88 अंक गिरकर 18,178 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में सुबह के कारोबार के दौरान सन फार्मा लगभग दो प्रतिशत की तेजी के साथ शीर्ष पर थी। इसके बाद पावरग्रिड, एनटीपीसी, एचडीएफसी, कोटक बैंक और एमएंडएम के शेयरों का स्थान रहा।

दूसरी ओर, एचसीएल टेक, टेक महिंद्रा, टीसीएस और भारती एयरटेल के शेयर नुकसान में थे। पिछले सत्र में 30 शेयरों वाला सूचकांक 456.09 अंक या 0.74 प्रतिशत की गिरावट के साथ 61,259.96 पर और निफ्टी 152.15 अंक या 0.83 प्रतिशत गिरकर 18,266.60 पर बंद हुआ था।

विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध विक्रेता थे, और शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार उन्होंने बुधवार को 1,843.09 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री की। एशिया के दूसरे प्रमुख शेयर बाजारों में शंघाई और सियोल मध्य सत्र सौदों में लाभ के साथ कारोबार कर रहे थे, जबकि हांगकांग और टोक्यो नुकसान में चल रहे थे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.08 प्रतिशत गिरकर 85.75 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।