इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन में दिल्ली कैपिटल्स की कमान संभालने वाले विस्फोटक बल्लेबाज और टीम के विकेटकीपर रिषभ पंत का आज जन्मदिन है। 4 अक्टूबर 1997 को उत्तराखंड के रुड़की में जन्में इस खिलाड़ी के लिए आज का मुकाबला बेहद अहम होने वाला है। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी जिनको पंत गुरु मानते हैं उनके सामने आज वह कप्तानी करते हुए टीम को जीत दिलाना चाहेंगे। जन्मदिन पर ऐसा मौका शायद ही उनको इसके बाद फिर से मिले।

दिल्ली की टीम ने इस सीजन में दमदार खेल दिखाया है और इसके पीछे कहीं ना कहीं उनके युवा कप्तान भी हैं। मार्च में शुरू हुए आइपीएल के 14वें सीजन के पहले चरण में पंत को श्रेयस अय्यर के चोटिल होने पर टीम की कप्तानी का जिम्मा सौंपा गया। इस जिम्मेदारी को युवा विकेटकीपर ने बहुत ही अच्छे तरीके से उठाया। टीम इस वक्त अंक तालिका में टाप दो स्थान में बनी हुई है। यही वजह है कि टीम मैनेजमेंट ने चोट के बाद वापसी करने पर भी अय्यर को कप्तानी दोबारा नहीं सौंपी बल्कि पंत को ही इस पद पर बनाए रखने का फैसला लिया। 

पंत का शानदार सफर

विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाने वाले पंत ने अपनी बल्लेबाजी में पिछले दिनों काफी बदलाव किया है। अब वह परिस्थिति के मुकाबित धीमी बल्लेबाजी भी करने लगे हैं। जरूरत पड़ने पर वह ताबड़तोड़ बड़े शाट भी लगाते हैं। इस सीजन में पंत ने 12 मैच खेलकर 337 रन बनाए हैं। नाबाद 58 रन उनका इस सीजन का सबसे बड़ा स्कोर रहा है। दो अर्धशतक उनके खाते में हैं। उन्होंने इस सीजन में 36 चौके और 7 छक्के लगाए हैं।

धौनी के खिलाफ उतरेंगे पंत

जन्मदिन पर पहली बार धौनी जिनको पंत अपना गुरू मानते हैं और शुरुआती दिनों में क्रिकेट का ज्ञान लिया है। बतौर कप्तान यह पहला मौका होगा जब जन्मदिन पर अपने ही गुरू के सामने पंत चुनौती देते नजर आएंगे। विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी दोनों के साथ साथ पंत कप्तानी में भी अपने गुरू की रणनीति को मैदान पर मात देना चाहेंगे।