एटा| उत्तर प्रदेश के एटा जिले से सनसनीखेज घटना सामने आई है। यहां एक ही परिवार के पांच लोग घर में मृत मिलने से सनसनी फैल गई। मृतकों में दो मासूम भी शामिल हैं। घटना का पता उस वक्त चला, जब शनिवार की सुबह दूध वाला आया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है। 
कोतवाली नगर के मोहल्ला श्रृंगार नगर की अधिवक्ता आलोक तिवारी वाली गली में राजेश्वर प्रसाद पचौरी का मकान है। इनका बेटा दिवाकर पचौरी रुड़की में नौकरी करता है। दिवाकर की पत्नी दिव्या पचौरी, दो बच्चों आरुष (10 वर्ष), छोटू (10 माह) और ससुर राजेश्वर प्रसाद पचौरी के साथ रहती थी। 

कुछ दिन पहले ही दिवाकर पचौरी की साली बुलबुल (26) पुत्री रमाशंकर उपाध्याय निवासी सोनई जिला मथुरा आई थी। इन पांचों लोगों के शव शनिवार सुबह मकान के बरामद में पड़े मिले। मकान के अंदर प्रवेश करने का कोई अन्य रास्ता नहीं है, मामला हत्या और आत्महत्या में उलझा हुआ है। 


फॉरेंसिक टीम ने जुटाए साक्ष्य
सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। एसएसपी सुनील कुमार सिंह भी घटनास्थल पर पहुंचे। फॉरेंसिक टीम को बुलाकर मौके से साक्ष्य जुटाए गए। बताया जाता है कि मौके पर ब्लेड और सल्फास की गोलियां मिली हैं। 

एसएसपी सुनील कुमार सिंह का कहना है कि हत्या या आत्महत्या है, अभी कुछ कहा नहीं जा सकता। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी। पुलिस और फॉरेसिंक टीम घटनास्थल पर छानबीन कर रही है।