लॉस एंजेलिस । अभिनेत्री अमेरिका फेरेरा को एक मां के रूप में घर से काम करना मुश्किल लगता है। उन्होंने ने बताया ‎कि कोरोना काल में उन्हें पता चला कि 2 बच्चों को बड़ा करना कितना मुश्किल काम है। उन्होंने कहा, "मां के तौर पर घर से काम करना विशेष रूप से मुश्किल है, क्योंकि उन्हें जरा भी अहसास हो जाएगा कि मैं वहां हूं, वो बस, 'मम्मी मम्मी मम्मी', बोलना शुरू कर देते हैं। चाहे फिर उनके पापा या कोई और उनकी मदद के लिए कोई भी हो। यदि मैं वहां हूं तो उन्हें मां ही चाहिए होती है। ऐसे में मेरे लिए काम करना बहुत मुश्किल होता है। मैं बेडरूम में खुद को बंद करके ही किसी से बात कर सकती हूं क्योंकि यही वो जगह है जहां से मेरी बेटी मेरी आवाज नहीं सुन सकती।" फेरेरा की 7 महीने की बेटी लूसिया और 2 साल का बेटा सेबेस्टियन है। अभिनेत्री ने कहा कि उनकी बेटी ने पूरा जीवन लॉकडाउन में बिताया है, इसलिए वह नए लोगों को देखते ही बहुत जोर से रोना शुरू कर देती है। उसे नए लोगों से मिलने की आदत नहीं है। उन्होंने कहा ‎कि "जब भी वह किसी नए चेहरे को देखती है, आंसू बहाना शुरू कर देती है। वह नहीं जानती कि इन नए चेहरों के साथ क्या करना है, इसलिए उम्मीद है कि उसकी आदत बदलेगी और वह बेहतर हो जाएगी।"  उन्होंने कहा, "मैं कभी सोच भी नहीं सकती था कि हम ऐसी स्थिति में अपना परिवार बढ़ा रहे हैं, लेकिन यह अद्भुत रहा है क्योंकि इसने हमें केवल 4 लोगों के परिवार के साथ पूरा समय बिताने के लिए मजबूर किया। चुनौती भरा साल होने के बाद भी हमें इस साल ने कई प्यारी यादें दीं और अपने परिवार के साथ समय बिताने का मौका दिया।" बता दें ‎कि इस साल मातृत्व और अपने काम के बीच ये साल फेरेरा के लिए खासा कठिन रहा, लेकिन लॉकडाउन के कारण वे अपने परिवार के साथ अद्भुत समय बिता पाईं हैं।